लाइव टीवी

चंपारण में 300 करोड़ की योजनाओं का आगाज कर CM नीतीश ने एक बार फिर मांगा मौका, करप्शन पर BJP अध्यक्ष को इशारों में दिया जवाब

News18 Bihar
Updated: November 9, 2019, 12:11 PM IST
चंपारण में 300 करोड़ की योजनाओं का आगाज कर CM नीतीश ने एक बार फिर मांगा मौका, करप्शन पर BJP अध्यक्ष को इशारों में दिया जवाब
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान होना चाहिए.

सीएम नीतीश ने भ्रष्टाचार को लेकर बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल के उठाए सवाल का इशारों में जवाब देते हुए कहा कि पहले काम नहीं होता था तो लोगों की मानसिकता भी वही होती थी.

  • Share this:
पश्चिम चंपारण. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish kumar) बिहार के चार जिलों की यात्रा पर निकले हैं. इसी क्रम में वे शुक्रवार को पश्चिमी चंपारण (West champaran) पहुंचे. यहां बेतिया के मैनाटांड़ में सीएम ने 300 करोड़ की कई योजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन किया. इस दौरान मैनाटांड में उन्होंने एक जनसभाको संबोधित किया और अगली बार फिर मौका देने का आग्रह किया. अपने भाषण में उन्होंने बिगड़ते जलवायु और पर्यावरण (Environment) को लेकर चिंता जाहिर की वहीं, इशारों-इशारों में बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल (Sanjay Jaisawal) के उस खत का जवाब भी देने की कोशिश की जिसमें उन्होंने सड़क निर्माण में राशि गबन का आरोप लगाया है.

BJP अध्यक्ष को CM नीतीश का जवाब!
सीएम नीतीश ने भ्रष्टाचार को लेकर बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल के उठाए सवाल का इशारों में जवाब देते हुए कहा कि पहले काम नहीं होता था तो लोगों की मानसिकता भी वही होती थी. लेकिन, अब जब काम तेज़ी से हो रहे हैं तो लोगों की उम्मीदें भी बढ़ जाती है. बता दें कि बिहार बीजेपी (Bihar BJP) के अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल (Sanjay Jaisawal) ने ग्रामीण कार्य की एक योजना में 95 लाख रुपये के गबन का आरोप लगाया है.

पराली न जलाने की अपील

जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम नीतीश ने एक बार फिर जलवायु परिवर्तन पर चिंता जाहिर की और लोगों से परली नहीं जलाने का आग्रह किया. उन्होंने कहा कि ऐसा न करें नहीं तो पर्यावरण का काफ़ी नुकसान करेंगे.

मीडिया पर CM का तंज
इस दौरान उन्होंने मीडिया पर अपना क्षोभ व्यक्त करते हुए कहा कि मौसम में बदलाव की समस्या देश भर में हो रही है. अमृतसर में भी ये समस्या दिखी जब बरसात से सड़क पर पानी भर गया था. लेकिन मीडिया ने ये नहीं दिखाया. जबकि बिहार में कुछ होता है मीडिया ख़ूब दिखाता है.
Loading...

वादा निभाने का दावा
सीएम नीतीश ने अपने दौरे के बारे में कहा कि लोक सभा चुनाव के प्रचार के दौरान मैंने सभा में कहा था की सिकटा आऊंगा. उस दौरान लोगों ने विकास की कुछ मांग की थी उसी मांग को पूरा करने आज सिकटा आया हूं. सीकटा के लिए कई विकास योजनाओं की शुरुआत की जा रही है कुछ के लिए भू अर्जन की समस्या भी हुई, लेकिन वो दूर कर लिया जाएगा.

सीएम नीतीश ने पश्चिमी चंपारण में 300 करोड़ की अलग-अलग योजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन किया.


अगली बार मांगा मौका
सीएम ने कहा कि मैं बहुत जल्द जल जीवन हरियाली कार्यक्रम को देखने निकलूंगा. इसकी शुरुआत भी चम्पारण से ही करुंगा. विकास के कार्य शुरू होंगे और विकास की गति भी तेज़ होगी. जिन अधिकारियों की वजह से कार्य में देरी होगी. गुणवत्ता ख़राब होगी उन ओर कार्रवाई भी होगी. उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि अगली बार फिर से मौक़ा दीजिए तो विकास के और बड़े काम होंगे.

घर-घर बिजली पहुंचाने का दावा
इसी सभा को संबोधित करते हुए सीएम ने जानकारी दी कि आज बिहार में 5500 हज़ार मेगावाट बिजली की खपत हो रही है. 2005 के आसपास मात्र 700 मेगावाट बिजली की खपत होती थी. घर-घर बिजली के बाद हर खेत बिजली की व्यवस्था भी की जा रही है.

युवकों पर नाराज हुए नीतीश
सीएम नीतीश जब बिजली की बात कह रहे थे तो कुछ युवकों ने इनकार में हाथ दिखाया तो वे गुस्सा हो गए. उन्होंने DM को आदेश दिया कि जो लोग हाथ हिला रहे हैं अगर उनके घर बिजली नही आई तो जानकारी लीजिए. अगर बिजली आ गई है बावजूद इसके हाथ हिला रहे हैं तो उन पर मामला दर्ज कीजिए.

नाराज युवकों से मिले सीएम
हालांकि भाषण खत्म होने के बाद सीएम ने हाथ हिलाने वाले युवकों को मिलने के लिए बुलाया और 10 मिनट तक युवकों से बात की. इसके बाद युवकों ने कहा कि सीएम नीतीश ने आश्वासन दिया है कि सब समस्या दूर हो जाएगी.

सुशील मोदी- अब हर खेत में बिजली
इससे पहले डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने भी सभा को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि मुझे ख़ुद भी भरोसा नहीं था की बिहार में घर-घर बिजली पहुंचेगी, लेकिन नीतीश कुमार ने घर घर बिजली पहुंचा दी.
अब हर खेत में बिजली पहुंचे इस कोशिश में नीतीश कुमार लगे हुए हैं.

बता दें कि सीएम नीतीश कुमार रात्रि विश्राम वाल्‍मीकि नगर में करेंगे, फिर शनिवार को मधेपुरा, किशनगंज व पूर्णिया जाएंगे. इसके बाद पटना लौटेंगे.

इनपुट- आनंद अमृतराज

ये भी पढ़ें-

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पश्चिमी चंपारण से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 8, 2019, 3:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...