आफत बनी नेपाल में हो रही भारी बारिश, फिर बिहार पर मंडराया बाढ़ का खतरा

बिहार के कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात.
बिहार के कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात.

नेपाल और नरकटियागंज अनुमंडल क्षेत्र में लगातार हो रही बारिश से फिर बाढ़ जैसे हालात हो गए है. कई लोगों के घरों में बाढ़ (Flood) का पानी घुस गया है.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 18, 2020, 11:43 PM IST
  • Share this:
बेतिया. बाढ़ की त्रासदी झेलकर चैन की सांस लेने वाले पश्चिम चंपारण के लोगों को बाढ़ (Flood) ने एक बार फिर बेचैन कर दिया है. नेपाल (Nepal) और नरकटियागंज अनुमंडल क्षेत्र में लगातार हो रही बारिश से बाढ़ जैसे हालात हो गए है. गौनाहा प्रखंड क्षेत्र के दर्जनों गांव में बाढ़ का पानी घुस गया है जिसके कारण कई गांवों का संपर्क प्रखंड मुख्यालय से टूट गया है, तो वहीं नरकटियागंज के नंदपुर व कृषि विहार मोहल्ले में तेजी से पानी फैल रहा है जिसके कारण लोग सहम गए हैं. कल से अबतक 212.4 मिली मीटर बारिश हुई है जो इस साल का रिकॉर्ड है. पंडई, द्वारदह, हड़बोड़ा, गांगुली, कटहा नदियों का जल स्तर बढ़ जाने से रूपवलिया, भितिहरवा, श्रीरामपुर, मंझरिया,मुरली भरहवा,बेलवा बलुआ,मर्ज़दी,माधोपुर आदि गांवों के दर्जनों घरों में बाढ़ के पानी ने कहर बरपाया है.

बाढ़ का कहर इस तरह बरपाया है कि मर्ज़दी गांव का एप्रोच पथ काटहा नदी बहा ले गया जिससे इस गांव का संपर्क प्रखंड मुख्यालय और अन्य गांवों से टूट गया है. इधर, अंचलाधिकारी अमित कुमार का कहना है कि बाढ़ को लेकर प्रशासन सख्त है. बाढ़ पर निगरानी रखी जा रही है ताकि कोई अप्रिय घटना नहीं घटे. रुपवालिया पंचायत के मुखिया दिलीप दिसवा और वार्ड सदस्य कपूरचंद महतो बताते हैं कि रुपवालिया गांव का मुख्य सड़क हरगोड़ा नदी से कट गया है तथा छलका पुल भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया है. जिससे रुपवालिया गांव का संपर्क हरपुर घोड़ा, ताराबसवरिया,सेमरी डुमरी,बजनी,सरफरवा, जम्हौली सहित दर्जनों गांव से कट गया है.

घरों में घुसा बाढ़ का पानी



कपूरचंद महतो के मुताबिक, रुपलिया गांव का वरमा कॉलोनी,थारूवा टोला,मुसहर टोली,उरांव टोली में भी बाढ़ के पानी ने तबाही मचाई है. ग्रामीणों ने बताया कि रुपवलिया गांव में चंद्रदेव दिसवा ,सूरज चौधरी, विश्वनाथ पांडेय, धूपन चौधरी,रामेश्वर उरांव के घरों में पानी घुस जाने से उन्हें ऊंचे जगह पर जाकर शरण लेना पड़ा है. ऐसे ही बेलवा पंचायत के मुरली भरहवा गांव में पंडई नदी का पानी घुस कर जनजीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया है. ग्रामीणों ने बताया कि मुरली भरहवा गांव के वार्ड नंबर आठ के कई लोगों के घरों में पंडई नदी का पानी घुस गया है जिससे वे अपना घर व सभी सामान छोड़कर दूसरे गांव में जाकर शरण लिए हुए हैं.
ये भी पढ़ें: अलवर में फिर गैंगरेप, पहले दुष्कर्म का बनाया Video, फिर पीड़िता के भांजे से जबरन करवाया रेप

जेएसएस अरविंद कुमार बताते हैं कि गुरुवार की रात्रि में 212.4 मिली मीटर बारिश हुई है जो इस साल का है. मरजदी गांव में चंद्र किशोर महतो,रवींद्र प्रसाद, कपिल देव ओझईयां,रहमत महतो आदि के घरों में बाढ़ का पानी घुस गया है. धनौजी मुखिया रंजीत बहादुर राय उर्फ मिंगू बाबू बताते हैं कि मुसलाधार बारिश से बरवा गांव के लोगों का घर ध्वस्त हो गया है. मालूम हो कि मंगुराहा नौका टोला,रुपवलिया,हरकटवा, माधोपुर,बैरिया,मुरली भरहवा पीपरा, मनी टोला,भरहवा श्रीरामपुर,हरपुर,पिपरा,मरजदी मरजादपुर सहित दर्जनों गांवों में बाढ़ का पानी तांडव मचाए हुए है. सीओ अमित कुमार ने बताया कि संबंधित राजस्व कर्मचारी को बाढ़ से हुई क्षति का जायजा लेने के लिए भेज दिया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज