होम /न्यूज /बिहार /Bank Fraud: बैंक फ्रॉड से बचना तो न करें ये काम, जानिए पश्चिमी चंपारण के एक्सपर्ट के टिप्स

Bank Fraud: बैंक फ्रॉड से बचना तो न करें ये काम, जानिए पश्चिमी चंपारण के एक्सपर्ट के टिप्स

प्रतीकात्मक तस्वीर.

प्रतीकात्मक तस्वीर.

एसबीआई के सक्षम अधिकारी बताते हैं कि सीबीएस द्वारा कभी भी बैंक के सिस्टम से किसी भी प्रकार का लिंक जेनरेट नहीं किया जात ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट- आशीष कुमार

    पश्चिम चम्पारण. अनाधिकृत तरीके से किसी के बैंक अकाउंट से रुपए उड़ा लेना आजकल आम बात हो गई है.इस क्राइम को कई प्रकार से अंजाम दिया जाता है. कुछ मामलों में फ्रॉड कॉल के जरिए OTP हासिल करना, तो कुछ मामलों में फेक लिंक के जरिए सिस्टम हैक कर अकाउंट से रुपया निकाल लिया जाता है. अधिकांश लोगों को ऐसा लगता है कि इससे बचाव का कोई तरीका नहीं है. लेकिन इस उपाय को फॉलो कर आप किसी भी तरह के ऑनलाइन फ्रॉड से बच सकते हैं.

    आधार या अकाउंट जानने को बैंक से नहीं आता है फोन

    बैंक के वरीय अधिकारी रवि बताते हैं कि किसी भी बैंक के उपभोक्ता से बैंक कर्मी द्वारा फोन पर आधार या पैन नंबर, अकाउंट नंबर, रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर या बैंक का अन्य डिटेल नहीं मांगा जाता है, क्योंकि बैंक के सिस्टम में सारा डिटेल मौजूद रहता है. ऐसे में अगर आपको कोई व्यक्ति खुद को बैंककर्मी बताकर आपसे डिटेल मांगे, तो किसी भी स्थिति में नहीं दें.वेरिफिकेशन के लिए आप अपने बैंक चले आएं.

    आने वाले लिंक से रहें सावधान, नहीं बताएं OTP

    एसबीआई के सक्षम अधिकारी बताते हैं कि सीबीएस द्वारा कभी भी बैंक के सिस्टम से किसी भी प्रकार का लिंक जेनरेट नहीं किया जाता है. अगर आपको कोई व्यक्ति लिंक उपलब्ध कराकर उसे इस्तेमाल करने को कहे तो कतई ऐसा नहीं करें. अन्यथा वह व्यक्ति आपका अकाउंट मिनटों में खाली हो सकता है. इसके अलावा बैंककर्मी किसी उपभोक्ता से OTP की मांग नहीं करता है. कोई व्यक्ति OTP बताने को कहे तो फोन काट दें और अपनेबैंक जाकर वेरिफाई जरूर कर लें.

    Kyc तथा नेट बैंकिंग के लिए आएं ब्रांच

    वे बताते हैं कि सायबर फ्रॉड आपको केवाईसी कराने और नेट बैंकिंग के लिए भी फोन कर सकते है. ऐसे लोगों को कतई कोई जानकारी नहीं दें. वे यह भी बताते हैं कि कई बार इंटरनेट पर भी बैंक के नाम से फोन या मोबाइल नंबर सेव कर दिए जाते हैं. इसलिए जब भी कोई जानकारी हासिल करना हो तो सीधे अपने बैंक ही आएं. बावजूद अगर आप फ्रॉड के शिकार हो जाएं, तो ततकालएक आवेदन लेकर तुरंत बैंक मैनेजर से संपर्क करें.

    छुट्टी के दिन यह काम करें

    इसके अलावा बैंक में मौजूद ग्राहक मित्र से भी संपर्क कर सकते हैं. ध्यान रहे कि फ्रॉड का शिकार बनने पर जितनी जल्दी आप यह काम करेंगे, रिकवरी का चांस उतना ही अधिक होगा. शनिवार, रविवार या छुट्टी वाले दिन आप उस बैंक के एटीएम या संबंधित जगहों से अधिकारी का नंबर लेकर तत्काल फोन कर के उन्हें सूचित करें.

    Tags: Bihar News, Champaran news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें