लाइव टीवी

मुस्लिम दम्पति के लिए देवदूत बन कर आई इंडियन आर्मी

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: August 22, 2017, 11:22 AM IST

इंडियन आर्मी ईज द बेस्ट यह बात एक बार और साबित हो गई जब जिले मे आई प्रलयंकारी बाढ़ मे राहत व बचाव के लिए बेतिया पहुंचे सेना के जवानों की मदद से एक मुस्लिम दम्पति के घर किलकारी गूंजी.

  • Share this:
इंडियन आर्मी ईज द बेस्ट यह बात एक बार और साबित हो गई जब जिले मे आई प्रलयंकारी बाढ़ मे राहत व बचाव के लिए बेतिया पहुंचे सेना के जवानों की मदद से एक मुस्लिम दम्पति के घर किलकारी गूंजी.

दम्पति ही नहीं बल्कि पूरे क्षेत्र मे सेना के कार्य की ना सिर्फ तारीफ हो रही है बल्कि सेना के जवानों को लोग किसी देवदूत से कम नहीं मान रहे है.

यह मामला चारो तरफ से पानी से घिरे मझौलिया प्रखंड के भोगाड़ी गांव का है. सेना के जवान अफसाना व उसके पति सद्दाम के लिए भगवान बन कर आए.बाढ़ की त्रासदी झेल रहे सद्दाम व उसकी पत्नी अफसाना की खुशी का ठिकाना नहीं है क्योंकि जिस वक्त अफसाना को दर्द हुआ उस वक्त वह इलाका पानी से घिरा हुआ था.

ऐसे मे हालात मे बच्चे को जन्म देने की बात तो दूर उसका जिंदा रहना भी मुश्किल लग रहा था लेकिन नाउम्मीद हो चुके सद्दाम ने सेना के जवानों से सम्पर्क किया और अपनी आपबीती बताई.जिसके बाद सेना के जवानों ने वह कर दिखाया जिसके लिए भारतीय सेना को जाना जाता है.

सेना के जवानों के लिए यह काफी मुश्किल समय था क्योंकि एक तरफ सद्दाम की पत्नी प्रसव पीड़ा से छटपटा रही थी तो दूसरी तरफ सेना के जवान वहां से बीस किलोमीटर दूर दूसरे की जिन्दगी बचाने मे लगे थे. लेकिन सेना के जवानो ने पहले उसे बचाने का निर्णय लिया जिसने अभी दुनिया देखी तक नहीं थी.

लिहाजा सेना के जवान सद्दाम के घर पहुंचे जो चारो तरफ से पानी से घिरा हुआ था.सेना ने त्वरीत कार्रवाई करते हुए पहले तो अफसाना व उसके परिवार को बोट पर बैठाया और फिर बोट से एम्बुलेंस तक लेकर पहुंचे जंहा से अफसाना को मझौलिया पीएचसी पहुंचाया गया. उसके बाद अफसाना ने एक नन्ही परी को जन्म दिया.

आज सद्दाम के घर खुशियों की बहार है और हर तरफ भारतीय सेना की प्रशंसा हो रही है.लिहाजा ना सिर्फ सद्दाम का परिवार बल्कि पूरा क्षेत्र और हम भी सेना के जवानों के इस हौसले को सलाम करते .चिकित्सकों की देखरेख मे अफसाना व सद्दाम की बच्ची सही सलामत हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पश्चिमी चंपारण से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 22, 2017, 11:22 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर