Home /News /bihar /

भारत-नेपाल सीमा के समानांतर एनएच-104 के दोहरीकरण का शिलान्यास

भारत-नेपाल सीमा के समानांतर एनएच-104 के दोहरीकरण का शिलान्यास

भारत सरकार नें गुरुवार को बिहार को राष्ट्रीय राजमार्ग के क्षेत्र में एक सौगात दी है. केंद्रीय भूतल परिवहन राज्यमंत्री पोन राधाकृष्णन ने मधुबन में एनएच 104 के दोहरीकरण का शिलान्यास किया. भारत-नेपाल सीमा के समानांतर गुजरने वली ये सड़क महत्वपूर्ण सड़कों में से एक है.

भारत सरकार नें गुरुवार को बिहार को राष्ट्रीय राजमार्ग के क्षेत्र में एक सौगात दी है. केंद्रीय भूतल परिवहन राज्यमंत्री पोन राधाकृष्णन ने मधुबन में एनएच 104 के दोहरीकरण का शिलान्यास किया. भारत-नेपाल सीमा के समानांतर गुजरने वली ये सड़क महत्वपूर्ण सड़कों में से एक है.

भारत सरकार नें गुरुवार को बिहार को राष्ट्रीय राजमार्ग के क्षेत्र में एक सौगात दी है. केंद्रीय भूतल परिवहन राज्यमंत्री पोन राधाकृष्णन ने मधुबन में एनएच 104 के दोहरीकरण का शिलान्यास किया. भारत-नेपाल सीमा के समानांतर गुजरने वली ये सड़क महत्वपूर्ण सड़कों में से एक है.

अधिक पढ़ें ...
    भारत सरकार नें गुरुवार को बिहार को राष्ट्रीय राजमार्ग के क्षेत्र में एक सौगात दी है. केंद्रीय भूतल परिवहन राज्यमंत्री पोन राधाकृष्णन ने मधुबन में एनएच 104 के दोहरीकरण का शिलान्यास किया. भारत-नेपाल सीमा के समानांतर गुजरने वली ये सड़क महत्वपूर्ण सड़कों में से एक है.

    इसके पहले चरण में 40 किलोमीटर का दोहरीकरण का कार्य संपन्न होगा. इसके बाद मधुबनी होते हुए भूटान सीमा तक की सड़क का निर्माण कार्य विश्‍व बैंक के सहयोग से की जाएगी.

    इस मौके पर बिहार के पथ निर्माण मंत्री ललन सिंह, भाजपा नेता सुशील मोदी भी मौजूद रहे. सुशील मोदी नें कहा कि बिहार जैसे पिछड़े राज्य के विकास के लिए केंद्र सरकार पूरी तरह से सहयोग कर रही है. मोदी नें आशा जताया की बिहार सरकार भी केंद्र के साथ कदम से कदम मिलाकर चलेगी.

    वहीं, पथ निर्माण मंत्री नें कहा की बिहार के विकास में कोई राजनीति आड़े नहीं आएगी. केंद्र सरकार उन्हें मदद करे तो विकास में तेजी आएगी.

    आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर