वाल्मीकिनगर टाइगर रिजर्व : बाघ के साथ झगड़े में तेंदुए की मौत

मंगलवार की रात बाघ जब अपने रखे शिकार के पास पहुंचा, तो देखा कि एक तेंदुआ उसके शिकार को खा रहा है. यह देख बाघ ने तेंदुए पर हमला कर दिया.

आईएएनएस
Updated: February 15, 2018, 7:53 AM IST
वाल्मीकिनगर टाइगर रिजर्व : बाघ के साथ झगड़े में तेंदुए की मौत
प्रतीकात्मक तस्वीर
आईएएनएस
Updated: February 15, 2018, 7:53 AM IST
बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले के वाल्मीकिनगर व्याघ्र परियोजना क्षेत्र में एक बाघ और तेंदुए के बीच संघर्ष में तेंदुए की मौत हो गई. तेंदुए के शव को वन विभाग के अधिकारियों ने बरामद कर लिया है. वन विभाग के एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि एक बाघ ने वाल्मीकि टाइगर रिजर्व प्रमंडल-2 के जटाशंकर वन परिसर में वन संख्या 31 के समीप तीन दिन पूर्व एक बाघ ने चीतल हिरण का शिकार किया था. कहा जाता है कि बाघ अपने शिकार को दो-तीन दिन बाद ही खाता है.

अधिकारी ने बताया कि मंगलवार की रात बाघ जब अपने रखे शिकार के पास पहुंचा, तो देखा कि एक तेंदुआ उसके शिकार को खा रहा है. यह देख बाघ ने तेंदुए पर हमला कर दिया.

वनपाल बी़ क़े पाठक ने आईएएनएस को बताया कि इस संघर्ष में तेंदुए की मौत हो गई. मृत तेंदुए के शरीर के विभिन्न जगहों पर बाघ के पंजे के निशान हैं. आसपास की जमीन पर खून बिखरा पड़ा है. तेंदुए के शव के पास ही चीतल हिरण का शव भी पड़ा हुआ है, उसका कुछ हिस्सा गायब है. उन्होंने बताया कि इसकी सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को दे दी गई है.

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि तेंदुआ के शव का बिसरा फॉरेंसिक जांच के लिए देहरादून भेजा जा रहा है. पोस्टमार्टम के बाद शव को वन क्षेत्र में ही दफना दिया जाएगा.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर