होम /न्यूज /बिहार /बेतिया में छापेमारी करने गई पुलिस टीम पर शराब माफिया का हमला, कई जवान घायल

बेतिया में छापेमारी करने गई पुलिस टीम पर शराब माफिया का हमला, कई जवान घायल

पुलिस के खिलाफ महिलाओं ने भी लाठी उठा ली थी (बाएं). घायल पुलिसकर्मी की जांच.

पुलिस के खिलाफ महिलाओं ने भी लाठी उठा ली थी (बाएं). घायल पुलिसकर्मी की जांच.

Illegal Liquor: यह मामला बेतिया के मझौलिया थाना क्षेत्र का है. पुलिस को सूचना मिली थी कि यहां के करमवा वार्ड नंबर 1 में ...अधिक पढ़ें

बेतिया. बेतिया में छापेमारी करने गई पुलिस टीम पर शराब कारोबारी के समर्थकों ने हमला कर दिया. इस हमले में कई पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं. पुलिस ने एक महिला सहित 3 को हिरासत में लेते हुए 11 नामजद और 125 अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है.

यह मामला बेतिया के मझौलिया थाना क्षेत्र का है. पुलिस को सूचना मिली थी कि यहां के करमवा वार्ड नंबर 1 में अवैध शराब बनाई जाती है. इसी की जांच करने मझौलिया थाने की पुलिस और एएलटीएफ टीम गई थी. लेकिन वहां पुलिस टीम को घेरकर हमला कर दिया गया. इस हमले में एएलटीएफ के सब इंस्पेक्टर संतोष कुमार का सिर फट गया, जबकि 3-4 सिपाही चोटिल हो गए हैं. मझौलिया पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए हमलावरों पर प्राथमिकी दर्ज करते हुए एक महिला समेत 3 को हिरासत में लिया है.

मझौलिया थाना के प्रभारी थानाध्यक्ष अशोक साह के मुताबिक, इस मामले में 11 नामजद और 125 अज्ञात के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है. उन्होंने कहा कि पुलिस पर हमला करनेवालों को किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा. पुलिस ने बताया कि करमवा गांव में बड़े पैमाने पर शराब बनाए जाने की सूचना मिली थी. इसी सूचना के मद्देनजर मझौलिया थाने की टीम वहां छापेमारी करने पहुंची थी. इसका विरोध शराब कारोबारियों ने कर दिया और हंगामा करने लगे. तब पुलिस ने बल प्रयोग कर हंगामा कर रहे उपद्रवियों को खदेड़ दिया. पुलिस के बल प्रयोग किए जाने के बाद ग्रामीण और उग्र हो गए.

ग्रामीणों ने छापेमारी करने पहुंची टीम पर आरोप लगाया कि पुलिस ने निर्दोष लोगों की पिटाई कर दी है. इस पिटाई से एक महिला समेत 3 लोग घायल हुए हैं. इसी दौरान ग्रामीणों की आड़ में शराब कारोबारियों ने मझौलिया थाना और एएलटीएफ टीम पर हमला कर दिया, जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं. किसी तरह पुलिस टीम मौके से निकली और घायल पुलिसकर्मियों को अस्पताल में भर्ती कराया. इधर पुलिस हमलावरों की पहचान कर कार्रवाई में जुट गई है, जिसके तहत अबतक तीन लोग हिरासत में लिए गए हैं और अन्य उपद्रवियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी चल रही है.

Tags: Illegal Liquor Factory, Liquor Ban, Liquor Mafia

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें