Weather Alert : बिहार के इन इलाकों में गुरुवार को भी होगी भारी बारिश, वज्रपात की पूर्व सूचना के लिए डाउनलोड करें ये ऐप

बिहार में आज और कल भारी बारिश-वज्रपात का अलर्ट. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
बिहार में आज और कल भारी बारिश-वज्रपात का अलर्ट. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

मौसम विभाग ने उत्तर बिहार में बारिश और वज्रपात (Rain and thunderclap) का अलर्ट जारी किया है. खासकर मुजफ्फरपुर जिले में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है.

  • Share this:
पटना. पूरे बिहार में मानसून (Monsoon) एक्टिव है और पूरे प्रदेश में अभी दो तीन दिनों तक कहीं भारी तो कहीं रुक-रुककर बारिश होती रहेगी. मौसम विज्ञान केंद्र पटना के अनुसार प्रदेश में तीन जुलाई तक दक्षिण-पश्चिम मानसून (Southwest monsoon) सक्रिय रहेगा. इस दौरान राज्य के अधिकांश जिलों के लिए अलर्ट जारी किया है. मौसम केंद्र ने राज्य के कई जिलों में भारी बारिश (Heavy Rain) के साथ ही वज्रपात (Thunderclap) की भी संभावना जतायी है. इसके अनुसार गुरुवार को राजधानी पटना के ऊपर बादल छाने के साथ-साथ हल्की बारिश भी हो सकती है.

उत्तर बिहार में होगी भारी बारिश
मौसम विभाग ने उत्तर बिहार में बारिश और वज्रपात का अलर्ट जारी किया है खासकर मुजफ्फरपुर जिले में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है. वहीं भागलपुर प्रमंडल के जिलों में भी बुधवार व गुरुवार को हल्की बारिश की संभावना है. मौसम विभाग ने बुधवार को खगड़िया, जमुई और लखीसराय में  देर रात तक बारिश के साथ ही वज्रपात की आशंका जताई गई है. गौरतलब है कि मंगलवार को वज्रपात से प्रदेश में फिर से एक बार जान-माल की हानि हुई.

मंगलवार को वज्रपात से 11 की मौत
मंगलवार को ठनका (वज्रपात) की चपेट में आने से सारण में 5, पटना में 2, नवादा में 2, लखीसराय में एक और जमुई में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी. इस जनहानि पर सूबे के सीएम नीतीश कुमार ने  (Nitish Kumar) ने पीड़ित परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए चार-चार लाख रुपये मदद के तौर पर देने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि आपदा की इस घड़ी में वे पीड़ित परिवारों के साथ हैं. उन्होंने लोगों से खराब मौसम में सतर्कता बरतने की अपील की और बारिश में लोगों को घरों से बाहर नहीं निकलने की सलाह दी.



आपदा प्रबंधन विभाग का INDRAVAJRA ऐप करें डाउनलोड
बता दें कि वज्रपात से बचने के लिए आपदा प्रबंधन विभाग ने एक ऐप भी बनाया है जिसका नाम इंद्रवज्र है. बज्रपात (ठनका) से बचने के लिए बिहार सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग ने एक ऐप बनाया है जिसका नाम इंद्रव्रज्र (INDRAVAJRA)  है. यह एप्लीकेशन मुफ्त है और गूगल प्ले स्टोर (Google play store) से कोई भी डाउनलोड कर सकता है.

मोबाइल नंबर रजिस्टर करवाना पड़ेगा
आपदा प्रबंधन विभाग (Disaster Management Department) ने ठनका से बचाने के लिए कई सुविधाएं दी हैं. ऐप को डाउनलोड करने के बाद अपना फोन नंबर रजिस्टर करना होता है. नंबर रजिस्टर होते ही वह आपसे आपकी सहमति मांगेगा कि क्या आप अपना लोकेशन देने के लिए सहमत हैं. इसके लिए ALLOW को क्लिक करना है. इसके बाद इस एप्लीकेशन की सारी सुविधाएं आपको बिल्कुल मुफ्त मिलनी शुरू हो जाएंगी.

आधे घंटे पूर्व देगा वज्रपात की सूचना
इस ऐप के जरिये आप अपने लोकेशन या फिर अपने लोकेशन के 20 किलोमीटर के दायरे में होनेवाले वज्रपात की पूर्व सूचना पा सकते हैं. यह एप्लीकेशन आपको कम से कम आधे घंटे पहले आपको वज्रपात होने की पूर्व सूचना दे देता है. इसके जरिये आप अपने इलाके में मौसम की भी जानकारी ले सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज