Assembly Banner 2021

बिहार: करीब साढ़े तीन घंटे बाद ग्रामीणों की 'कैद' से आजाद हुए BJP सांसद

पश्चिमी चम्पारण के नरकटिया विधानसभा बूथ संख्या 162/163 पर गोली चली. यहां एनडीए के प्रत्याशी और निवर्तमान सांसद संजय जायसवाल को असामाजिक तत्वों ने घेर लिया.

  • Share this:
बिहार के पश्चिमी चंपारण के सांसद और बीजेपी के प्रत्याशी और मौजूदा सांसद संजय जायसवाल को भारी सुरक्षा के बीच गांववालों के बीच से निकाला गया. आक्रोशित ग्रामीणों ने संजय जायसवाल को बंधक बना लिया था. बनकटवा प्रखंड के शेखवाना गांव में जायसवाल बंधक बने थे. करीब साढ़े तीन घंटे के बाद सांसद मुक्त हुए.

इससे पहले संजय जायसवाल पर जानलेवा हमला करने की कोशिश की गई. नरकटिया विधानसभा क्षेत्र के बूथ नंबर 162, 163 पर भीड़ ने NDA प्रत्याशी और निवर्तमान सांसद संजय जायसवाल को घेर लिया और भीड़ में मौजूद असामाजिक तत्वों ने हंगामा किया. लाठी डंडे से लैस लोग संजय जायसवाल पर हमले की कोशिश की.  हालांकि पुलिस ने संजय जायसवाल को अपने सुरक्षा घेरे में ले रखा है. अभी भी सांसद को लोगों ने घेर लिया था.

सांसद के बॉडी गार्ड पुलिस ने बचाव में फायरिंग भी की. घटना बनकटवा के शेखवना गांव की है. हालांकि अभी वे पुलिस के घेरे में सुरक्षित रहे. भीड़ में लाठी डंडे से लैस उपद्रवी मौजूद थे जो बार-बार सांसद को अपने कब्जे में लेना चाह रहे थे.



ये भी पढ़ें- RJD विधायक की 'गुंडागर्दी' पर तेजस्वी की चुप्पी, आरा झड़प पर बोले- बाप-बाप करेगी BJP
सांसद संजय जायसवाल ने न्यूज 18 को बताया कि उनके बॉडीगार्ड ने बचाव में हवाई फायरिंग कर भीड़ को रोका. बकौल सांसद इस गांव में एक समुदाय विशेष के लोगों की संख्या 90 प्रतिशत है और उन्होंने दूसरे समुदाय के 10 प्रतिशत वोटों की कैप्चरिंग कर ली.

जब सांसद को सूचना मिली तो वह वहां पहुंचे और जानकारी लेनी चाही. इसके बाद असामाजिक तत्वों ने उन्हें घेर लिया. सांसद ने बताया कि डीएम और एसपी को फोन किया गया लेकिन उन्होंने तत्काल फोन नहीं उठाया.

इनपुट- प्रफुल्ल

ये भी पढ़ें- बिहार: RJD विधायक की गाड़ी को DM-SP ने खदेड़कर पकड़ा, जानिए क्यों
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज