लाइव टीवी

VIDEO: बाढ़ में बहे तीन गैंडों को हाथियों की मदद से बचाया जा रहा

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: August 18, 2017, 11:09 AM IST

बाल्मिकी रीजर्व और चितवन नेशनल पार्क के एक्सपर्टों की टीम ने बाढ़ के पानी में बहकर बगहा पहुंचे एक गैंडे को पकड़ने में सफलता पाई है दो की तलाश अभी जारी है.

  • Share this:
बाढ़ ने इंसान के साथ जंगली जानवरों पर भी कहर बरपाया है. सैकड़ों हिरणों के साथ न जाने कितने जानवर बह गए इसका हिसाब न तो बाल्मिकी रिजर्व प्रबंधन के पास है और न ही नेपाल के चितवन नेशनल प्रबंधन के पास.

बाल्मिकी रिजर्व और चितवन नेशनल पार्क के एक्सपर्ट की टीम ने बाढ़ के पानी में बहकर बगहा पहुंचे तीन में से एक गैंडे को पकड़ने में सफलता पाई है दो की तलाश अभी जारी है. अबतक 100 से ज्यादा हिरणों को भी बरामद किया जा चुका है. रेस्क्यू ऑपरेशन की लाइव तस्वीरें ईटीवी के कैमरे में कैद हैं.

हाथी के सहारे वनकर्मियों की टीम नेपाली गैंडों की तलाश कर रही है. पांच दिनों से बगहा के साथ कई इलाकों में दो अन्य गैंडे खौफ का पर्याय बने हुए हैं. वैसे तो बाल्मिकी टाइगर रीजर्व की टीम ऑपरेशन चला रही थी मगर उसे सफलता नहीं मिली. नेपाल के चितवन नेशनल पार्क से एक्पर्टों की टीम हाथियों के साथ पहुंची और गैंडे को ट्रेगुलाइजर गन के सहारे धर दबोचा. पकड़ा गया गेंडा नेपाल का है और वहीं भेजा जा रहा है.

बड़े जानवरों का हिसाब तो दोनों देशों के वन महकमों के पास है, मगर कितने छोटे जानवरों को बाढ़ ने मौत के नींद सुला दी, कितनों को घर से बेघर कर दिया इसका आकंड़ा अबतक तैयार नहीं हो सका है. फिलहाल नेपाली एक्सपर्ट के सहारे बाल्मिकी रिजर्व प्रबंधन गैंडों को उनके वतन वापसी के लिए कसरत कर रहा है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पश्चिमी चंपारण से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 18, 2017, 9:35 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर