होम /न्यूज /बिहार /वाल्मीकि टाइगर रिजर्व: डर के मारे गांववालों ने मैन बाबा मंदिर में पूजा करना छोड़ा, जानें किसका है डर

वाल्मीकि टाइगर रिजर्व: डर के मारे गांववालों ने मैन बाबा मंदिर में पूजा करना छोड़ा, जानें किसका है डर

वीटीआर से सटे इलाकों में बाघिन और उसके शावक का दिखा पगमार्क

वीटीआर से सटे इलाकों में बाघिन और उसके शावक का दिखा पगमार्क

Footprints of Tigress: ग्रामीणों द्वारा बाघिन और उसके शावक के पगचिह्न देखे जाने का दावा किए जाने के बाद जब न्यूज 18 लोक ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट : आशीष कुमार

पश्चिम चंपारण. वाल्मीकि टाइगर रिजर्व से सटे क्षेत्रों में रहनेवाले लोगों के बीच जंगली जानवरों का खतरा हमेशा बना रहता है. ऐसे में वन विभाग की तरफ से सभी गांववालों को हमेशा सतर्क रहने की सलाह दी जाती है. महज कुछ माह पूर्व ही ग्रामीणों एवं आदमखोर बाघ के बीच जानलेवा संघर्ष चला था. जिसमें 9 लोगों की जान चली गई थी. लेकिन विडंबना ये है कि एक बार फिर इस क्षेत्र में बाघिन का खतरा मंडराने लगा है.

दरअसल, मानपुर थाना क्षेत्र के पड़रिया गांव से सटे वीटीआर जंगल में मैन बाबा स्थान के पास बाघिन और उसके शावक के फुटमार्क देख ग्रामीण उल्टे पांव भागे. हालत इतनी गंभीर है कि डर के मारे लोगों ने वहां मौजूद मैन बाबा मंदिर में पूजा करना तक छोड़ दिया है. फील्ड ऑफिसर्स का कहना है कि उनकी टीम मामले को गंभीरता से ले रही है.

मैन बाबा स्थान के पास दिखा फुटमार्क

ग्रामीणों द्वारा बाघिन और उसके शावक के पगचिह्न देखे जाने का दावा किए जाने के बाद जब न्यूज 18 लोकल की टीम ने वन विभाग की टीम से बात की, तब वन विभाग की टीम ने उन पगचिह्न को पड़रिया के मैन बाबा स्थान की तरफ देखे जाने की पुष्टि कर दी. हालांकि समझने वाली बात ये है कि अभी तक वहां बाघिन और उसके शावक को देखा नहीं गया है. लेकिन वन विभाग की टीम लगातार नजर बनाए हुए है.

वनकर्मी अलर्ट

बाघिन और उसके शावक के फुटमार्क की सूचना लोगों ने वन विभाग को दी. मंगुराहा वन रेंज के रेंजर सुनील पाठक ने बताया कि बाघिन व शावक के पगचिह्न मिलने की सूचना मिली है. पहचान के लिए पगचिह्न मंगाकर जांच की जा रही है. वन विभाग की टीम को मैन बाबा स्थान की ओर भेज दिया गया है. साथ ही उन्हें अलर्ट रहने का निर्देश दिया गया है. जहां तक बात ग्रामीणों की है तो जंगल की तरफ उनके जाने पर प्रतिबंध लगाया गया है. ग्रामीणों द्वारा मिली जानकारी के अनुसार पड़रिया गांव से उत्तर वीटीआर जंगल स्थित मैन बाबा स्थान के पास ग्रामीण पूजा करने गए थे. तभी उनकी नजर पगचिह्न पर पड़ी. इसके बाद से आसपास के लोग दहशत में है.

Tags: Bihar News, Champaran news, Valmiki Tiger Reserve

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें