हत्या की नियत से युवती को उफनती नदी में फेंका, नाविकों ने बचाई जान

नाविकों के साथ सुरक्षित लौटी युवती शोभा ने जब अपनी आपबीती सुनाई तो हर कोई दंग रह गया.

News18 Bihar
Updated: August 13, 2019, 4:49 PM IST
हत्या की नियत से युवती को उफनती नदी में फेंका, नाविकों ने बचाई जान
नदी की तेज धार से निकाली गई पीड़िता
News18 Bihar
Updated: August 13, 2019, 4:49 PM IST
बिहार के बगहा (Bagha) में जाको राखे साइयां मार सके ना कोय वाली कहावत चरितार्थ हुई है. दरअसल एक युवती को दो परिचितों ने हत्या (Murder) की नियत से गंडक (Gandak) की तेज धार में फेंक दिया था. इस दौरान खेती के लिए दियारा (Farm) गए किसानों की नजर अचानक गंडक के बीच धार (Current) में डूबती युवती पर पड़ी.

युवती को डूबता देख नाविकों ने अपनी जान हथेली पर लेकर उसको बचा लिया. नाविकों के साथ सुरक्षित लौटी युवती शोभा ने जब अपनी आपबीती सुनाई तो हर कोई दंग रह गया. युवती को पटखौली पुलिस ने बगहा अनुमंडल अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया है. डॉक्टरों ने फिलहाल उसकी स्थिति को स्थिर बताया है और किसी भी तरह के खतरे की संभावना से इनकार किया है.

पुलिस उन दरिंदों की तलाश में जुटी है जिन्होंने जिंदा लड़की को गंडक में फेंक दिया. युवती की जान बचाने वाले नाविकों के इस प्रयास की हर जगह सराहना हो रही है.

रिपोर्ट- मुन्ना राज
First published: August 13, 2019, 11:56 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...