लाइव टीवी

बिहार की बदहाल शिक्षा व्यवस्था, सीढ़ी और मैदान में बैठ परीक्षा देने को मजबूर छात्र

News18 Bihar
Updated: October 26, 2019, 11:07 AM IST
बिहार की बदहाल शिक्षा व्यवस्था, सीढ़ी और मैदान में बैठ परीक्षा देने को मजबूर छात्र
मामला बिहार के बेतिया का है. (वीडियो ग्रैब)

बिहार (Bihar) में बदहाल शिक्षा व्यवस्था (Education System) की एक तस्वीर बेतिया (Bettiah) से सामने आई है. यहां स्नातक पार्ट-3 (Graduation Part- 3) की परीक्षा देने आए परीक्षार्थीयों को बैठने के लिए जगह नहीं मिला, जिसके बाद परीक्षार्थी सीढ़ी पर मैदान में और बरामदे में बैठकर परीक्षा देने को मजबूर दिखे.

  • Share this:
बेतिया. बिहार (Bihar) में बदहाल शिक्षा व्यवस्था (Education System) की एक तस्वीर बेतिया (Bettiah) से सामने आई है. यहां स्नातक पार्ट-3 (Graduation Part- 3) की परीक्षा देने आए परीक्षार्थीयों को बैठने के लिए जगह नहीं मिला, जिसके बाद परीक्षार्थी सीढ़ी पर मैदान में और बरामदे में बैठकर परीक्षा देने को मजबूर दिखे.

यह नजारा बिहार के विकास और सूबे की शिक्षा व्यवस्था का है. बेतिया के आरएलएसवाई कॉलेज का जंहा जमीन पर सीढ़ी पर व खुले मैदान में परीक्षार्थी परीक्षा दे रहे हैं. यह परीक्षा पहली व दुसरी कक्षा की नहीं बल्कि स्नातक पार्ट-3 की है. जिले के रामलखन सिंह महाविधालय में स्नातक पार्ट-3 के जीएस विषय की परीक्षा दो पालियों में आयोजित की गई लेकिन कालेज में क्षमता से अधिक परीक्षार्थीयों का सेन्टर दे दिया गया जिसके बाद यह तस्वीर देखने को मिली.

2500 छात्रों की व्यवस्था लेकिन 6 हजार का सेंटर
कॉलेज प्रशासन की माने तो कॉलेज में सिर्फ 2500 छात्र छात्राओं के बैठने की ही व्यवस्था है, लेकिन 6 हजार परीक्षार्थीयो को यहां परीक्षा देने के लिए भेज दिया गया तो कालेज प्रशासन क्या करेगा? वहीं कॉलेज के प्राचार्य ने बताया कि इस महाविधालय में परीक्षा भवन भी नहीं है, जिसके लिए जिला प्रशासन से लेकर विश्वविधालय प्रशासन जिम्मेदार है. हद तो यह है की परीक्षार्थियों को प्रयोगशाला में भी खड़े होकर परीक्षा देनी पड़ी तो कहीं एक सीट पर चार-चार परीक्षार्थी बैठकर परीक्षा देते देखे गए.

ये भी पढ़ें-

CM नीतीश कुमार ने छठ महापर्व के पूर्व पटना के गंगा घाटों का किया निरीक्षण

गोपालगंज में कार से जब्त की गई शराब की खेप, झंझारपुर में होनी थी सप्लाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पश्चिमी चंपारण से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 26, 2019, 11:07 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...