युवक के अपहरण को लेकर रातभर थाने का घेराव करते रहे ग्रामीण, जब हकीकत पता चली तो पुलिस समेत सभी रह गए हैरान

बेतिया पुलिस ने युवक के अपहरण को लेकर मामला दर्ज कर लिया था.

बेतिया पुलिस ने युवक के अपहरण को लेकर मामला दर्ज कर लिया था.

बेतिया ( Bettiah) अनुमंडल क्षेत्र में ग्रामीण रातभर थाने पर युवक के अपहरण को लेकर प्रदर्शन करते रहे, लेकिन पुलिस (Bihar Police) ने जांच की तो पता चला कि उसे यूपी एटीएस गिरफ्तार कर ले गई हैं, क्‍योंकि उस पर न सिर्फ कई मामले दर्ज हैं बल्कि 25 हजार का इनाम भी है.

  • Share this:
बेतिया. बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले के बेतिया (Bettiah) अनुमंडल क्षेत्र से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. दरअसल जिस युवक के अपहरण को लेकर लोग थाना का घेराव करने पहुंचे थे वह युवक उत्तर प्रदेश पुलिस (UP Police) का इनामी बदमाश निकला. यही नहीं, उसे यूपी एटीएस की टीम गिरफ्तार कर ले गई थी और गांव के लोग युवक के अपहरण का आरोप लगा रहे थे.

युवक के अपहरण की जानकारी मिलते ही पुलिस के होश उड़ गए और आनन-फानन में पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला की युवक का अपहरण नहीं हुआ बल्कि युवक राहुल यादव को यूपी एटीएस की टीम गिरफ्तार कर ले गई है. कथित अपह्रत युवक राहुल पर कुर्की जब्‍ती से संबंधित कांड यूपी में दर्ज था जिस मामले में उसकी गिरफ्तार हुई है.

यहां का है पूरा मामला

दरअसल यह पूरा मामला मझौलिया थाना क्षेत्र के मझरिया पंचायत के मठिया टोला का है. कल देर शाम अचानक ग्रामीणों को पता चला कि मझौलिया थाना क्षेत्र के पासवान चौक से राहुल यादव नाम के युवक का अपहरण हो गया है और अपहरण का आरोप शहर के प्रसिद्ध होलट व्यवसाई और किशन होटल के मालिक पर लगा तो लोग आक्रोशित हो गए और देर रात को ही मझौलिया थाना पहुंच कर राहुल को बरामद करने की मांग करने लगे. बता दें कि राहुल का होटल संचालक के साथ पूर्व का जमीनी विवाद चल रहा था, लिहाजा अपहरण की जानकारी पुलिस को भी मिली और सूचना मिलते ही पुलिस के भी कान खड़े हो गए और मझौलिया थानाध्यक्ष अशोक कुमार गुप्ता ने इसकी सूचना वरीय पुलिस पदाधिकारी को देते हुए मामले की जांच शुरू कर दी. यही नहीं, सुबह तक लोग थाने पर डटे रहे और राहुल की बरामदगी के लिए पुलिस पर दवाब बनाने लगे.
25 हजार का इनामी बदमाश था राहुल यादव

इस बीच मझौलिया पुलिस ने जब मामले की जांच की तो पुलिस को उस समय चैन की सांस आयी जब पुलिस को पता चला कि राहुल का अपहरण नहीं हुआ है बल्कि उसको यूपी एटीएस की पुलिस गिरफ्तार कर ले गई है. रात भर थाना में सैकड़ो की संख्या में हुजूम लगाये ग्रामीण भी उस समय अवाक रह गये जब प्रक्षिक्षु डीएसपी सह थानाध्यक्ष अमित कुमार ने यह बताया कि राहुल यादव का अपहरण नहीं हुआ है बल्कि यूपी पुलिस की एटीएस टीम उसे गिरफ्तार कर अपने साथ ले गई है, क्योंकि उस पर 25 हजार का इनाम यूपी पुलिस द्वारा रखा गया था. इसके साथ उन्होंने बताया कि राहुल यादव पर यूपी के दारागंज थाना में संगीन अपराध के मामले में कांड संख्या 91/17 भी दर्ज है. इस बाबत उसके विरुद्ध कुर्की जब्‍ती की कार्यवाही की जा चुकी है. इधर परिजनों द्वारा अपहरण की आशंका जताते हुए थाना में एक आवेदन दिया गया था जिसके आलोक में मझौलिया पुलिस अज्ञात के विरुद्ध कांड संख्या 205/21 दर्ज की है. वहीं, कथित अपहरण को लेकर सैकड़ो ग्रामीणों ने थाना पर प्रदर्शन भी किया. बताते हैं कि सूचना मिलते ही त्वरित कार्यवाही करते हुए प्रक्षिक्षु डीएसपी अमित कुमार और पु. नि. अशोक कुमार दलबल के साथ घटना स्थल पासवान चौक पर पहुंच मामले की गहन छानबीन करने के साथ हर संभव ठिकानों पर छापेमारी भी की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज