लाइव टीवी

बकरी के बच्चे को बचाने के लिए बाघ से भिड़ी महिला, हालत नाजुक

News18 Bihar
Updated: December 3, 2018, 10:43 AM IST

घटना गौनाहा प्रखंड स्थित टहकौल गांव की है. गांव में महिला बकरी चरा रही थी. तभी बाघिन ने बकरी के एक मेमने पर हमला कर दिया.

  • Share this:
बिहार के पश्चिमी चंपारण स्थित वाल्मीकि टाइगर रिजर्व से भटक कर रिहायशी इलाके में पहुंची दो बाघिन व उसके शावकों ने एक महिला पर हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया. इसके बाद महिला को पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से उसे बेतिया रेफर कर दिया गया.

जानकारी के मुताबिक, घटना गौनाहा प्रखंड स्थित टहकौल गांव की है. गांव में महिला बकरी चरा रही थी. तभी बाघिन ने बकरी के एक मेमने पर हमला कर दिया. ऐसे में महिला मेमने की जान बचाने के लिए बाघिन से भिड़ गई. हालांकि, बाघिन ने महिला को अपने पंजों से बुरी तरह से घायल कर दिया. इसके बाद उसे बेतिया के गर्वनमेंट मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया. महिला अब खतरे से बाहर बताई जा रही है.

ये भी पढ़ें- PHOTOS: महिलाओं के लिए खास है पटना का ये सरकारी दफ्तर, सुविधाएं देख आप भी हो जाएंगे हैरान

बता दें कि, वाल्मीकि टाइगर रिजर्व से दो बाघिन अपने शावकों के साथ पिछले कई दिनों से आबादी क्षेत्र में भटक रही हैं. धीरी-धीरे बाघिन हमलावर होती जा रही हैं. कहा जा रहा है कि जानवरों के अलावा दोनों इंसानों पर भी हमला कर रही हैं. अब बाघिन के खौफ का आलम यह है कि शाम में लोग घर से निकलने में कतरा रहे हैं. बाघिन का सबसे ज्यादा प्रकोप गौनाहा प्रखंड है. इस प्रखंड में  लगभग एक दर्जन से अधिक गांव के लोग बाघिन के डर से सहमे हुए है.

ये भी पढ़ें- बिहार में सुशासन का दावा हो रहा है फेल: उपेंद्र कुशवाहा

रिपोर्ट- प्रफुल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पश्चिमी चंपारण से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 3, 2018, 10:31 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर