Home /News /business /

10 crypto exchanges with china link under ed lens for alleged laundering over rs 1000 crore mlks

हजार करोड़ की मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में 10 क्रिप्टो एक्सचेजों पर ED की नजर: रिपोर्ट

एजेंसी अगले सप्ताह फिर से जांच के तहत क्रिप्टो एक्सचेंजों के अधिकारियों से पूछताछ कर सकती है.

एजेंसी अगले सप्ताह फिर से जांच के तहत क्रिप्टो एक्सचेंजों के अधिकारियों से पूछताछ कर सकती है.

भारत का प्रवर्तन निदेशालय (ED) ऐसी 10 क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंजों की जांच कर रहा है, जो कथित तौर पर 1 हजार करोड़ रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग में शामिल हैं. इन एक्सचेंजों पर आरोप है कि उन्होंने चीन की कुछ इंस्टेंट लोन कंपनियों के माध्यम से वर्चुअल क्रिप्टो एसेट खरीदे और ट्रांसफर किए.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

मनी लॉन्ड्रिंग में प्रवर्तन निदेशालय (ED) 10 क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंजों की जांच कर रहा है.
चीन की कुछ इंस्टेंट लोन कंपनियों के माध्यम से वर्चुअल क्रिप्टो एसेट खरीदे और ट्रांसफर किए गए.
आरोपी कंपनियां 100 करोड़ रुपये से अधिक के क्रिप्टो कॉइन खरीदने के लिए एक्सचेंजों से संपर्क में थीं.

नई दिल्ली. क्रिप्टोकरेंसी और इसकी ट्रेडिंग करवाने वाली एक्सचेंजों को लेकर हर दिन कोई नई खबर सामने आती है. अब एक जानकारी सामने आई है कि भारत का प्रवर्तन निदेशालय (ED) ऐसी 10 क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंजों की जांच कर रहा है, जो कथित तौर पर 1 हजार करोड़ रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग में शामिल हैं.

इकोनॉमिक्स टाइम्स की एक रिपोर्ट में इस बात की जानकारी दी गई है. इस रिपोर्ट के अनुसार, इन 10 क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंजों पर आरोप है कि उन्होंने चीन की कुछ इंस्टेंट लोन कंपनियों के माध्यम से वर्चुअल क्रिप्टो एसेट खरीदे और ट्रांसफर किए हैं. रिपोर्ट में ‘मामले के जानकारों’ के हवाले से सूचना दी गई है, जिन्होंने अपना नाम नहीं बताया है.

ये भी पढ़ें – WazirX बनाम Binance: जल्द शांत होता नहीं दिख रहा ये झगड़ा

इंटरनेशनल वॉलेट्स में गए क्रिप्टो कॉइन
इस रिपोर्ट के अनुसार, जांच से पता चला है कि आरोपी कंपनियां 100 करोड़ रुपये से अधिक के क्रिप्टो कॉइन खरीदने के लिए एक्सचेंजों से संपर्क कर रही थीं और क्रिप्टो कॉइन इंटरनेशनल वॉलेट्स में भेजे गए.
कहा गया है कि एक्सचेंजों ने कोई बढ़ी हुई ड्यू डिलिजेंस मतलब जरूरी पड़ताल नहीं की और यहां तक कि संदिग्ध ट्रांजैक्शन रिपोर्ट (STRs) भी नहीं दी. रिपोर्ट में है कि संघीय एजेंसी अगले सप्ताह फिर से जांच के तहत क्रिप्टो एक्सचेंजों के अधिकारियों से पूछताछ कर सकती है.

WazirX की भी चल रही है जांच
पिछले हफ्ते, एजेंसी ने कहा कि उसने क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज वज़ीरएक्स (WazirX) के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़ी जांच के हिस्से के रूप में 64.67 करोड़ रुपये की बैंक में जमा राशि फ्रीज़ की है. एजेंसी ने 3 अगस्त को हैदराबाद में ज़नमई लैब प्राइवेट लिमिटेड (Zanmai Lab Pvt. Ltd.) के एक निदेशक के खिलाफ छापेमारी की है. कहा गया है कि उसने “असहयोग” किया.

एजेंसी ने वज़ीरएक्स पर पिछले साल विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम (FEMA) के कथित उल्लंघन का आरोप लगाया था.

Tags: Business news, Business news in hindi, Crypto, Cryptocurrency, Money Laundering, Money Laundering Case

अगली ख़बर