होम /न्यूज /व्यवसाय /IPO : 101 साल पुराना निजी बैंक लाने जा रहा आईपीओ, प्राइस बैंड किया तय, चेक करें डिटेल्स

IPO : 101 साल पुराना निजी बैंक लाने जा रहा आईपीओ, प्राइस बैंड किया तय, चेक करें डिटेल्स

आईपीओ के जरिए बैंक की 831 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है.

आईपीओ के जरिए बैंक की 831 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है.

तमिलनाड मर्सेंटाइल बैंक का आईपीओ 5 सितंबर को सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगा और 7 सितंबर को बंद होगा. आीपीओ के जरिए बैंक की ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

तमिलनाड मर्सेंटाइल बैंक की स्थापना 1921 में हुई थी और अभी इसकी 509 शाखाएं है.
बैंक ने आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 500-525 रुपये फिक्स किया है.
आईपीओ सब्सक्रिप्शन के लिए 5 सितंबर को खुलेगा और 7 सितंबर तक निवेशक बोली लगा सकेंगे.

नई दिल्ली. 1921 में स्थापित हुआ तमिलनाड मर्सेंटाइल बैंक अपना आईपीओ लाने जा रहा है. आईपीओ सब्सक्रिप्शन के लिए 5 सितंबर को खुल जाएगा और 7 सितंबर तक निवेशक इसके लिए बोली लगा सकेंगे. बैंक ने आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 500-525 रुपये फिक्स कर दिया है. आईपीओ में बैंक 1.58 करोड़ रुपये के नए शेयर (फ्रेश इश्यू) जारी करेगा. इसमें ओएफएस (ऑफर फोर सेल) शेयर नहीं हैं.

अगर प्राइस बैंड के ऊपरी हिस्से पर देखा जाए तो बैंक आईपीओ के जरिए 831.60 करोड़ रुपये जुटाने की कोशिश कर रहा है. आईपीओ के लिए कंपनी ने एक्सिस कैपिटल, मोतीलाल ओसवाल और एसबीआई कैपिटल मार्केट को लीड मैनेजर बनाया है. एंकर निवेशक 2 सितंबर को इसके लिए बोली लगाएंगे. आईपीओ में बोली लगाने वाले निवेशकों को 14 सितंबर को शेयर अलॉट होंगे और 15 सितंबर को शेयर बाजार में लिस्ट हो जाएंगे.

ये भी पढ़ें- EPFO: अब आप UAN सहित कई जरूरी डॉक्‍यूमेंट डिजिलॉकर से कर सकेंगे डाउनलोड

बैंक क्यों ला रहा आईपीओ?

बैंक इस आईपीओ से जुटाई धनराशि का इस्तेमाल अपनी पूंजीगत जरूरतों को पूरा करने के लिए करेगा. इसका मकसद अपने टियर-1 कैपिटल बेस को बढ़ाना है. बता दें कि यह देश के सबसे पुराने निजी बैंकों में से एक है. इसका मुख्यालय थूथुकुडी में है. बैंक कई बैंकिंग व वित्तीय सेवाएं देता है. इसके पास एमएसएमई, एग्रीकल्चर व खुदरा ग्राहक हैं.

बैंक की वित्तीय स्थिति

31 मार्च 2022 तक बैंक को न्यूनतम 11.5 फीसदी का सीआरएआर (कैपिटल टू रिस्क एसेट्स रेश्यो) बनाए रखना आवश्यक था. इसका टियर-1 कैपिटल एडिक्वेसी रेश्यो 20.46 फीसदी था और टियर-1 पूंजी 5231.77 करोड़ रुपये थी. वित्त वर्ष 2021-22 के लिए बैंक का कुल एनपीए (नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स) 1.69 फीसदी था. यह इससे पिछले वित्त वर्ष के 3.44 फीसदी से बेहतर था. इसका शुद्ध एनपीए भी 1.98 फीसदी से गिरकर 0.95 फीसदी पर आ गया था. 31 मार्च 2022 तक बैंक की कुल 509 शाखाएं थी. इनमें से 106 ग्रामीण, 247 सेमी-अर्बन, 80 शहरी और 76 महानगरीय इलाकों में थी.

सिरमा एसजीएस के आईपीओ को मिला था जबरदस्त रिस्पॉन्स

इसी महीने आए सिरमा एसजीएस टेक्नोलॉजी के आईपीओ को निवेशकों से तगड़ा रिस्पॉन्स मिला था. यह आईपीओ 12-18 अगस्त तक ओपन था और इसे 32 गुना अधिक सब्सक्राइब किया गया था. इस आईपीओ को संस्थागत निवेशकों ने 87.56 गुना सब्सक्राइब किया था जबकि खुदरा निवेशकों के लिए आरक्षित हिस्सा 5.53 गुना सब्सक्राइब हुआ था. लिस्टिंग के बाद भी इस शेयर ने अपना दम दिखाया है. पिछले हफ्ते शुक्रवार को लिस्ट हुआ यह शेयर 18 फीसदी के करीब रिटर्न दे चुका है.

Tags: Business news, Investment, IPO, Share market, Stock market

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें