बदल गया इनकम टैक्स से जुड़ा ये जरूरी फॉर्म, इसमें होती है आपके हर लेन-देन की जानकारी

बदल गया इनकम टैक्स से जुड़ा ये जरूरी फॉर्म, इसमें होती है आपके हर लेन-देन की जानकारी
इनकम टैक्स रिटर्न भरने की तारीख बढ़ी

अगर आप इनकम टैक्स रिटर्न (ITR-Income Tax Returns) फाइल करने जा रहे हैं तो आपको बता दें कि फॉर्म 26AS एक महत्वपूर्ण डॉक्युमेंट है. सरकार ने इसमें बड़ा बदलाव किया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. नया फॉर्म 26एएस (Form 26AS) फॉर्म जारी हो गया है. अब इसमें टैक्‍स रिफंड (Tax Refund) और डिमांड (Tax Demand) (अगर कोई है) के बारे में भी जानकारी मिलेगी. साथ ही, आपके खरीदे-बेचे गए शेयर (Share Transaction), रियर एस्‍टेट ट्रांजेक्‍शन (Real Estate Transaction), क्रेडिट कार्ड बिलों (Credit Card Bill) के पेमेंट का ब्‍योरा भी इसमें होगा. यह आपका सालाना टैक्स स्टेटमेंट है. आप अपने पैन नंबर की मदद से इसे इनकम टैक्स विभाग की वेबसाइट से निकाल सकते हैं. अगर आपने अपनी आमदनी पर टैक्स चुकाया है या आपको हुई कमाई पर किसी व्यक्ति/संस्था ने टैक्स काटा है तो उसका जिक्र भी आपको फॉर्म 26AS में मिल जाता है. ये नया फॉर्म 1 जून 2020 से लागू हो चुका है.

आइए जानें क्या हुआ बदलाव- अंग्रेजी के अखबार इकोनॉमिक टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक,

(1) नया फॉर्मेट-फॉर्म 26एएस (Form 26AS) का नया फॉर्मेट आ गया है. नए फॉर्मेट में आपको अपना आधार नंबर, जन्म की तारीख, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी और पता दिखाई देगा. यह ब्‍योरा एक जून 2020 तक किए गए लेनदेन का होगा. हालांकि, ये ट्रांजेक्‍शन केवल तभी दिखेंगे अगर वित्‍त वर्ष के दौरान इन्‍होंने एक सीमा पार कर ली होगी.



(2) पहली बार मिलेंगी ये जानकारियां- वित्‍त वर्ष के दौरान सरकार को चुकाए गए टैक्‍स और विभिन्‍न आय (सैलरी, ब्‍याज) के स्रोतों पर टैक्‍स कटौती के अलावा संशोधित फॉर्म में खास वित्‍तीय ट्रांजेक्‍शन से जुड़ी जानकारी भी होगी. इनमें शेयरों, रियल एस्‍टेट आदि की खरीद और बिक्री, बैंक ड्राफ्ट की खरीद के लिए कैश पेमेंट, आरबीआई के प्री-पेड इंस्‍ट्रूमेंट (जैसे मोबाइल वॉलेट), कैश डिपॉजिट, क्रेडिट कार्ड बिलों के पेमेंट (कैश और अन्‍य तरीके दोनों) शामिल हैं.
ये भी पढ़ें-मोदी सरकार के 6 बड़े फैसले- आम आदमी पर होगा सीधा असर

(3) टैक्स रिफंड की जानकारी भी मिलेगी- इनकम टैक्‍स डिमांड और रिफंड से जुड़ी जानकारी भी इसमें मिलेगी. साल के लिए आपको टैक्‍स रिफंड दे दिया गया है या आपके नाम पर टैक्‍स डिमांड बकाया है? इसकी जानकारी भी आपको दी जाएगी.

(4) कानूनी कार्यवाही की जानकारी भी मिलेगी- इनकम टैक्‍स से जुड़ी कानूनी कार्यवाही की जानकारी इनकम टैक्‍स से जुड़ी कानूनी कार्यवाही की जानकारी भी अब फॉर्म 26एएस में दी जाएगी.

इनकम टैक्स की वेबसाइट से कर सकते हैं फॉर्म 26AS को डाउनलोड-

एक्सपर्ट्स कहते हैं कि इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फाइल करने की प्रक्रिया शुरू करने से पहले आपको फॉर्म 26AS, फॉर्म 16 और फॉर्म 16A ध्यान से चेक करने की जरूरत है. अगर सब कुछ सही है तभी आप इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करें.

आप फॉर्म 26AS को ट्रेसेस की वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं. फॉर्म 26AS को डाउनलोड करने के लिए आप इनकम टैक्स फाइलिंग की वेबसाइट पर लॉग इन करें.

माय अकाउंट सेक्शन में आप व्यू फॉर्म 26AS (टैक्स क्रेडिट) टैब पर क्लिक करें. इसके बाद आप ट्रेसेज की वेबसाइट पर पहुंच जाएंगे.

यहां आप एसेसमेंट इयर डालने के बाद स्टेटमेंट डाउनलोड कर सकते हैं.आपका जन्म दिन फॉर्म 26AS को खोलने के लिए पासवर्ड की तरह इस्तेमाल होता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading