मोदी सरकार की एक और तैयारी! अब इन तीन सरकारी कंपनियों पर होगा बड़ा फैसला

सरकार ने यूनाइडेट इंडिया, नेशनल इंश्योरेंस और ओरिएंटल इंश्योरेंस इन तीनों कंपनियों के बीच मर्जर के प्रस्ताव को मंजूरी मिल सकती है

News18Hindi
Updated: August 5, 2019, 8:20 PM IST
मोदी सरकार की एक और तैयारी! अब इन तीन सरकारी कंपनियों पर होगा बड़ा फैसला
मोदी सरकार एक और तैयारी! अब इन तीन सरकारी कंपनियों पर होगा बड़ा फैसला
News18Hindi
Updated: August 5, 2019, 8:20 PM IST
तीन जनरल इंश्योरेंस कंपनियों के बीच मर्जर के प्रस्ताव को जल्द मंजूरी मिल सकती है. CNBC-आवाज़ से मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक वित्त मंत्रालय ने इसके लिए कैबिनेट ड्राफ्ट नोट तैयार कर लिया है. सरकार ने यूनाइडेट इंडिया, नेशनल इंश्योरेंस और ओरिएंटल इंश्योरेंस इन तीनों कंपनियों के बीच मर्जर के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. इस मर्जर प्लान को जल्द कैबिनेट के पास रखा जाएगा. इसे कैबिनेट से जल्द मंजूरी मिल सकती है. इन तीनों कंनपियों को मर्जर करके एक कंबनी बनाया जाएगा. अगर एक कंपनी बन जाती है तो प्रीमियम के हिसाब से देश की सबसे बड़ी जनरल इंश्योरेंस कंपनी हो जाएगी.

कंपनियों को पूंजी देने के प्रस्ताव पर खींचतान चल रही है. वित्त मंत्रालय ने करीब 3000 करोड़ रुपये देने की मांग की है जबकि कंसल्टेंसी फर्म EY ने 12000 करोड़ की जरूरत बताई थी. तीनों कंपनियों की वित्तीय हालत काफी कमजोर है. वित्त मंत्रालय में रकम को लेकर सहमति नहीं बनी. प्रीमियम के आधार पर कंपनियों का मार्केट शेयर 25% है. इन कंपनियों का सॉल्वेंसी रेश्यो 1% से भी नीचे है जबकि नियम के मुताबिक सॉल्वेंसी रेश्यो 1.5% होना चाहिए. सॉल्वेंसी रेश्यो का मतलब जितनी लायबिलिटी है, उसका 1.5 पर्सेंट सरप्लस होना.

इंश्योरेंस रेगुलेटर (IRDA) इस मुद्दे पर चिंता जताते हुए वित्त मंत्रालय को चिट्ठी लिख चुका है. मर्जर से देश की सबसे बड़ी जनरल इंश्योरेंस कंपनी बनेगी.

(लक्ष्मण रॉय, इकोनॉमिक पॉलिसी एडिटर- CNBC आवाज़)

ये भी पढ़ें: J&K से हटा आर्टिकल 370, पाकिस्तानी शेयर बाजार में मचा कोहराम, 650 अंकों से ज्यादा टूटा

(मनीकंट्रोल)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 5, 2019, 2:50 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...