Post Office की इन बेस्ट स्कीमों में लगाएं पैसा, अच्छी आमदनी के साथ रिस्क फ्री होगा इन्वेस्टमेंट

Post Office की इन बेस्ट स्कीमों में लगाएं पैसा, अच्छी आमदनी के साथ रिस्क फ्री होगा इन्वेस्टमेंट
खास सेविंग स्कीम

सरकार ने चालू वित्त वर्ष की आखिरी तिमाही के लिए पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम्स (Post Office Saving Scheme) पर ब्याज दरों (New Interest Rate) में कोई बदलाव नहीं किया है. अगर ऐसे में आप कोई नई प्लानिंग कर रहे है तो आपके के लिए पोस्ट ऑफिस की एक खास सेविंग स्कीम फायदेमंद हो सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 4, 2020, 10:33 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सरकार ने आम लोगों को नए साल का तोहफा दिया है. सरकार ने चालू वित्त वर्ष की आखिरी तिमाही के लिए पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम्स (Post Office Saving Scheme) पर ब्याज दरों (New Interest Rate) में कोई बदलाव नहीं किया है. नए वर्ष को शुरू हुआ अभी ज्यादा वक्त नहीं हुआ है. अगर ऐसे में आप कोई नई प्लानिंग कर रहे है तो आपके के लिए पोस्ट ऑफिस की एक खास सेविंग स्कीम फायदेमंद हो सकती है. इस स्कीम के जरिए हर महीने अच्छी आमदनी भी होती है. आइए आपको बताते हैं कि इन स्कीम के बारे में सब कुछ:

नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट्स (NSC)
पोस्ट ऑफिस (Post Office) की ये स्कीम नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट्स यानी एनएससी (NSC) है. इस स्कीम में निवेश करने पर आपका पैसा 119 महीने में दोगुना हो जाएगा. इस स्कीम की खासियत यह है कि इसमें आप मात्र 100 रुपये से निवेश कर सकते हैं और इस पर टैक्स छूट का लाभ भी ले सकते हैं. पोस्ट ऑफिस के NSC स्कीम के तहत निवेश की कुल अवधि 5 साल की है. इंडिया पोस्ट के अनुसार इस स्कीम के तहत खाता कम से कम 100 रुपये से खुलता है. NSC के तहत खाता देशभर में पोस्ट ऑफ‍िस के ब्रांच में खोला जा सकता है. वहीं, इसमें निवेश की अधिकतम लिमिट तय नहीं है. NSC में पैसा 119 महीने में दोगुना हो सकता है. NSC में 100 रुपये निवेश करने पर यह 5 साल बाद 146 रुपये हो जाता है. इस तरह, निवेश दोगुना होने में इसमें 9.11 साल यानी 119 महीने का समय लगेगा.

नए साल में SBI ने शुरू की नई सुविधा! बिना कैश-कार्ड दुकान पर ऐसे करें पेमेंट
पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट (POTD) 


पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट भी स्वीकार करते हैं. ये बैंक के फिक्स्ड डिपॉजिट की तरह होते हैं. एक, दो, तीन और पांच साल की अवधि के लिए टाइम डिपॉजिट किया जा सकता है. 10 साल से ज्यादा की उम्र के नाबालिग भी स्कीम में निवेश कर सकते हैं. पांच साल के टाइम डिपॉजिट पर सेक्शन 80सी के तहत टैक्स छूट का फायदा मिलता है. पोस्ट ऑफिस फिक्स डिपॉजिट अकाउंट को भी व्यक्ति नकद या चेक के जरिए खुलवा सकता है. चेक की बात की जाए तो सरकार के अकाउंट में चेक जमा होने की तारीख को अकाउंट खोले जाने की तारीख माना जाएगा.

किसान विकास पत्र (केवीपी)
यदि आप अपने निवेश की रकम को दोगुना करना चाहते हैं तो केवीपी सही विकल्प हैं. जहां तक अन्य छोटी बचत स्कीमों की ब्याज दरों का सवाल है तो सरकार हर तिमाही उनकी समीक्षा करती है. इस तरह निवेश किया गया पैसा कब दोगुना होगा वह ब्याज दरों पर निर्भर करता है. ब्याज दरें अमूमन एक तिमाही तक फिक्स्ड रहती हैं. ढाई साल के बाद समय से पहले विदड्राल की स्थिति में व्यक्ति को प्रति 1000 रुपए के निवेश पर 1,173 रुपए मिलेंगे. 3 साल के बाद मिलने वाली धनराशि बढ़कर 1,211 रुपए और साढ़े तीन साल के बाद यह 1,251 रुपए हो जाएगी. समय के साथ निकाली जाने वाली रकम बढ़ती जाएगी और 9 साल 5 महीने के बाद पैसा दोगुना हो जाएगा.

इस साल अमीर बनने के लिए अपनाए 7 अचूक नुस्खे!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज