भारत सरकार की तिजोरी में रखे Gold से 5 गुना ज्यादा है सोनभद्र की सोन पहाड़ी में मिला सोना, जानें कीमत

भारत सरकार की तिजोरी में रखे Gold से 5 गुना ज्यादा है सोनभद्र की सोन पहाड़ी में मिला सोना, जानें कीमत
मौजूदा समय में भारत के पास करीब 626 टन सोने का भंडार है.

वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल की रिपोर्ट के मुताबिक, मौजूदा समय में भारत के पास करीब 626 टन सोने का भंडार है. वहीं, सोनभद्र जिले में मिला सोना इससे करीब 5 गुना ज्यादा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 21, 2020, 6:26 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. किसी समय भारत को उसकी धन संपदा के चलते सोने की चिड़िया कहा जाता था, लेकिन तेजी से वक्त बदला और इस खजाने को दुनियाभर के लोग लूटते रहे. अब उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में मिले करीब  12 लाख करोड़ रुपये की कीमत वाले 3,350 टन सोने ने एक बार फिर भारत की उम्मीदें बढ़ा दी है. वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल की रिपोर्ट के मुताबिक, मौजूदा समय में भारत के पास करीब 626 टन सोने का भंडार है. वहीं, सोनभद्र जिले में मिला सोना इससे करीब 5 गुना ज्यादा है. अब माना जा रहा है कि सोने के रिजर्व को लेकर भारत दुनिया के टॉप-3 देशों में शामिल हो सकता है.

भारतीय भू-वैज्ञानिक सर्वेक्षण (जीएसआई) के सर्वे में इन पहाड़ियों में तीन हजार टन से ज्यादा सोना दबे होने की संभावना जताई की गई है. सर्वे के दौरान सोनांचल की पहाड़ी में सोने के अलावा, लोहा और भारी मात्रा में दूसरे खनिज भी दबे हैं. मौजूदा कीमत के हिसाब से इतने सोने का मूल्य करीब 12 लाख करोड़ रुपये है.





भारत के पास सोने का भंडार



वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत समेत दुनियाभर के सेंट्रल बैंक सोने की खरीदारी कर रहे हैं. रिपोर्ट में बताया गया हैं कि लगातार 10वें साल सेंट्रल बैंकों ने खरीदारी की है. साल 2019 में दुनिया के 15 सेंट्रल बैंकों ने 650.30 टन सोना खरीदा हैं. वहीं, इससे पहले साल यानी 2018 में 656.2 टन सोना खरीदा था.

WCG की रिपोर्ट में कहा गया है कि साल 2010 से लेकर 2019 से दुनियाभर के सेंट्रल बैंकों ने करीब 5]019 टन सोना खरीदा है यानी हर साल 500 टन सोने की खरीदारी की है. इससे पहले दशक में सालाना 443 टन सोने की खरीदारी हुई थी. अगर आसान शब्दों में कहें तो हर साल 57 टन सोना ज्यादा खरीदा गया है.

ये भी पढ़ें-जानिए विश्व में सबसे बड़ी सोने की खान कहां है?

दुनिया में सबसे ज्यादा सोने का भंडार अमेरिका के पास है. उसके पास 8,133 टन सोना है. जो उसके कुल विदेशी मुद्रा भंडार का 76.9% है. दूसरे स्थान पर जर्मनी का नाम आता है. जर्मनी के पास कुल 3366.8 टन सोना है. गोल्ड रिजर्व में तीसरे स्थान पर इटली है. इसके पास 2451.8 टन सोना है, जो कुल विदेशी मुद्रा भंडार का 68.4% है.



इसकी कुल विदेशी मुद्रा भंडार में हिस्सेदारी 73% है. दुनिया में सबसे ज्यादा गोल्ड रिजर्व में चौथे स्थान पर फ्रांस है. इसके पास कुल 2,436 टन सोना मौजूद है. वर्ल्ड काउंसिल की रिपोर्ट में पांचवें स्थान पर रूस का नाम आता है. रूस के पास 2241.9 टन सोना है, जो इसके विदेशी मुद्रा भंडार का 20.2% है.

छठवें स्थान पर हमारा पड़ोसी मुल्क चीन है. चीन के पास 1948.3 टन सोना है. जो इसके विदेशी मुद्रा भंडार का 2.9% है. वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल की रिपोर्ट में सातवें स्थान पर स्विट्जरलैंड का नाम आता है. इसके पास 1,040 टन सोना है. आठवें नंबर पर जापान है. जापान के पास 765.2 टन सोना है, जो विदेशी मुद्रा भंडार का 2.8% है. वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल की रिपोर्ट में 9वें स्थान पर भारत है. हमारे पास 626 टन सोने का रिजर्व है.

ये भी पढ़ें- 

उत्तर प्रदेश के इस बड़े जिले में जमीन के अंदर मिला 3,000 टन सोना, जल्द शुरू होगा निकालने का काम

सरकार के पास नहीं बाघ-मोर को राष्ट्रीय पशु-पक्षी बताने वाले दस्तावेज, उठाया यह कदम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading