होम /न्यूज /व्यवसाय /17 दिसंबर को होगी GST काउंसिल की बैठक, ऑनलाइन गेमिंग पर जीएसटी लगाने पर चर्चा संभव

17 दिसंबर को होगी GST काउंसिल की बैठक, ऑनलाइन गेमिंग पर जीएसटी लगाने पर चर्चा संभव

सरकार ने जुलाई, 2017 में देशभर में नई कर व्‍यवस्‍था जीएसटी लागू की थी. (फाइल फोटो)

सरकार ने जुलाई, 2017 में देशभर में नई कर व्‍यवस्‍था जीएसटी लागू की थी. (फाइल फोटो)

48th GST Council Meeting: बैठक में कसीनो (Casino), ऑनलाइन गेमिंग (Online Gaming) और घुड़दौड़ (Horse Racing) पर जीएसटी ल ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) की अध्यक्षता में जीएसटी काउंसिल (GST Council) की 48वीं बैठक 17 दिसंबर को होगी. उल्लेखनीय है कि 47वीं जीएसटी काउंसिल की बैठक, 28 और 29 जून को चंडीगढ़ में आयोजित की गई थी.

जीएसटी काउंसिल ने ट्विटर पर लिखा है, ‘‘जीएसटी काउंसिल की 48वीं बैठक 17 दिसंबर, 2022 को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए होगी.’’

बैठक में कसीनो (Casino), ऑनलाइन गेमिंग (Online Gaming) और घुड़दौड़ (Horse Racing) पर जीएसटी लगाने और जीएसटी अपीलेट ट्रिब्यूनल की स्थापना पर राज्य के वित्त मंत्रियों के समूह की रिपोर्ट पर चर्चा होगी. इसके अलावा, जीएसटी कानून के कुछ प्रोविजन को अपराध की श्रेणी से बाहर करने को लेकर अधिकारियों की समिति की एक रिपोर्ट पर भी विचार-विमर्श होने की संभावना है.

GST Compensation: केंद्र ने राज्यों को 17,000 करोड़ जीएसटी मुआवजा किया जारी
बता दें कि केंद्र सरकार ने राज्यों को जीएसटी मुआवजा के रूप में 17,000 करोड़ रुपये का भुगतान किया है. एक आधिकारिक बयान के अनुसार, सरकार ने शुक्रवार को कहा कि उसने अप्रैल-जून 2022 की अवधि के लिए देय जीएसटी मुआवजे के लिए राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 17,000 करोड़ रुपये जारी किए हैं. इस प्रकार चालू वित्त वर्ष में अब तक राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 1,15,662 करोड़ रुपये जीएसटी मुआवजा दिया जा चुका है.

ये भी पढ़ें- Petrol Under GST: केंद्र पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने को तैयार, अब राज्यों की बारी: पुरी

जीएसटी मुनाफाखोरी की जांच करेगा CCI
गौरतलब है कि जीएसटी मुनाफाखोरी से जुड़ी सभी शिकायतों की जांच एक दिसंबर से भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (CII) करेगा. इससे पहले इस प्रकार की शिकायतों से राष्ट्रीय मुनाफाखोरी-रोधी प्राधिकरण (NAA) निपटता था. केंद्र सरकार ने इस बाबत एक अधिसूचना जारी की है. वर्तमान में कंपनियों द्वारा जीएसटी दर में कटौती का लाभ नहीं देने संबंधी उपभोक्ताओं की शिकायतों की जांच मुनाफाखोरी-रोधी महानिदेशालय (DGAP) करता है और फिर यह अपनी रिपोर्ट एनएए को देता है, जिसके बाद एनएए इन शिकायतों पर अंतिम निर्णय लेता है.

Tags: Gst, GST council meeting, Nirmala sitharaman

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें