Home /News /business /

इन कर्मचारियों का बढ़ेगा वेतन, 10% आरक्षण के बाद इस प्लानिंग में सरकार!

इन कर्मचारियों का बढ़ेगा वेतन, 10% आरक्षण के बाद इस प्लानिंग में सरकार!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

केंद्र सरकार की होने वाली कैबिनेट बैठक में इस बार सातवें वेतन आयोग पर बड़ा फैसला लिया जा सकता है.

    सवर्णों को दस प्रतिशत आरक्षण का तोहफा देने के बाद मोदी सरकार एक और बड़ा ऐलान कर सकती है. उम्‍मीद की जा रही है कि केंद्र सरकार की होने वाली कैबिनेट बैठक में इस बार सातवें वेतन आयोग पर बड़ा फैसला लिया जा सकता है. अगर मोदी सरकार ने सातवें वेतन आयोग को मंजूरी दी तो 68 लाख केंद्रीय कर्मचारियों को इसका सीधा फायदा होगा.

    वित्‍त मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक मोदी सरकार बहुत जल्‍द आम आदमी के चेहरे पर खुशी लाने जा रही है. इस बार होने वाली कैबिनेट की बैठक में सातवें वेतन आयोग के तहत न्‍यूनतम सैलरी को 18,000 से बढ़ाकर 21,000 रुपये किया जा सकता है. अगर सातवें वेतन आयोग को मंजूरी मिलती है तो इसका सीधा फायदा 68 लाख केंद्रीय कर्मचारियों को मिलेगा. पिछले काफी समय से सातवें वेतन आयोग को मंजूर करने की मांग उठती रही है. इस बार चुनावी साल होने के कारण मोदी सरकार इस पर विचार कर रही है. यही कारण है कि माना जा रहा है कि बहुत जल्‍द सरकार कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दे सकती है.

    इसे भी पढ़ें :- इन 8 डाक्यूमेंट्स बनवाने में लेट हुए तो नहीं मिलेगा सवर्ण आरक्षण! तुरंत करें चेक

    सूत्रों के मुताबिक मोदी सरकार अलगी मंत्रिमंडल की बैठक में ग्रेड 1 से 5 तक के केंद्रीय कर्मचारियों का वेतन बढ़ाए जाने पर बड़ा ऐलान कर सकती है. गौरतलब है कि ग्रेड 1 से 5 तक के बीच में करीब 68 लाख केंद्रीय कर्मचारी आते हैं. अगर सबकुछ सही रहा तो इन कर्मचारियों का न्‍यूनतम वेतन 18 हजार रुपये से बढ़ाकर 21 हजार रुपये किया जा सकता है.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Lok Sabha 2019 Election, Lok Sabha Election 2019, Ministry of Finance, Narendra modi, Trending news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर