सर्वे में खुलासा, E-Commerce कंपनियों के भारी डिस्काउंट के पक्ष में हैं 72 फीसदी ग्राहक

सर्वे में देश के 394 जिलों के 82,000 उपभोक्ताओं की राय को शामिल किया गया.

एक सर्वे (Survey) में 72 फीसदी उपभोक्ताओं ने कहा कि सरकार को ई-कॉमर्स कंपनियों द्वारा दी जाने छूट (Discount) पर रोक नहीं लगानी चाहिए

  • Share this:
    नई दिल्ली. ज्यादातर उपभोक्ता ई-कॉमर्स (E-Commerce) प्लेटफॉर्म द्वारा दी जाने वाली भारी डिस्काउंट के पक्ष में हैं. एक सर्वे में 72 फीसदी ऐसे उपभोक्ताओं ने कहा कि सरकार को ई-कॉमर्स कंपनियों (E-Commerce Companies) द्वारा दी जाने डिस्काउंट (Discount)  पर रोक नहीं लगानी चाहिए और न ही उनकी सेल्स (Sales) की पेशकश में हस्तक्षेप करना चाहिए.

    कम्युनिटी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म लोकलसर्किल्स (Localcircles) के एक सर्वे के अनुसार पिछले 12 माह में देश में ऑनलाइन शॉपिंग मुख्यधारा में आ गई है. 49 फीसदी उपभोक्ता ऑनलाइन खरीदारी कर रहे हैं. सर्वे में देश के 394 जिलों के 82,000 उपभोक्ताओं की राय को शामिल किया गया है. इनमें 62 फीसदी पुरुष और शेष महिलाएं हैं.

    ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर प्रतिस्पर्धी कीमतों की पेशकश
    सर्वे में कहा गया है कि बड़ी संख्या में उपभोक्ता आज शॉपिंग के लिए इस चैनल का इस्तेमाल कर रहे हैं क्योंकि उनका मानना है कि यह एक सुरक्षित और सुविधाजनक तरीका है. ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर प्रतिस्पर्धी कीमतों की पेशकश की जाती है.

    ये भी पढ़ें- Bajaj Finance Q1 results: पहली तिमाही में 1,002 करोड़ रुपये रहा नेट प्रॉफिट, जानें कितनी रही आय

    सर्वे में ई-कॉमर्स कंपनियों की सेल पर भी उपभोक्ताओं के विचार लिए गए. 72 फीसदी उपभोक्ताओं ने कहा कि वे नहीं चाहते कि सरकार ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर दी जाने वाली डिस्काउंट या सेल आदि पर किसी तरह की रोक लगाए या कोई हस्तक्षेप करे.

    ये भी पढ़ें- ITR Filing: क्या आपको भी नया इनकम टैक्स पोर्टल पर आईटीआर भरने में हो रही है दिक्कत? पढ़ें वजह

    ऑनलाइन सेल्स में खरीदारी सस्ती
    सर्वे में शामिल लोगों का कहना था कि ऑनलाइन सेल्स में खरीदारी सस्ती होती है और इसमें उन्हें बचत करने का मौका मिलता है. ऐसे कठिन समय में यह काफी महत्वपूर्ण है. सरकार ने उपभोक्ता संरक्षण (ई-कॉमर्स) नियम, 2020 में संशोधन का प्रस्ताव किया है. माना जा रहा है कि इन संशोधनों से ऑनलाइन साइटों की डिस्काउंट या सेल्स पर अंकुश लग सकता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.