होम /न्यूज /व्यवसाय /भारत में 80 फीसदी लोग अपनी रिटायरमेंट प्लानिंग को लेकर आश्वस्त नहीं: सर्वे

भारत में 80 फीसदी लोग अपनी रिटायरमेंट प्लानिंग को लेकर आश्वस्त नहीं: सर्वे

75 फीसदी लोगों का पसंदीदा निवेश विकल्प है इक्विटी म्यूचुअल फंड.

75 फीसदी लोगों का पसंदीदा निवेश विकल्प है इक्विटी म्यूचुअल फंड.

एक सर्वे के अनुसार, भारत में करीब 80 फीसदी लोग अपने रिटायरमेंट के बाद की प्लानिंग को लेकर आश्वस्त नहीं है. करीब 65 फीसद ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

देश में 65 फीसदी लोग रिटायरमेंट फंड को खुद मैनेज कर रहे हैं.
लोग लंबी अवधि के लिए फाइनेंशियल प्लानिंग का महत्व समझ रहे हैं.
रिटायरमेंट फंड के लिए इक्विटी म्यूचुअल फंड पसंदीदा निवेश विकल्प है.

नई दिल्ली. स्क्रिपबॉक्स ने बुधवार को अपने वार्षिक वित्तीय स्वतंत्रता सर्वेक्षण के परिणामों की घोषणा की. सर्वेक्षण स्वतंत्रता दिवस से पहले आयोजित किया गया है और अब इसके चार संस्करण आ चुके हैं. यह सर्वे सेवानिवृत्ति योजना पर विशेष ध्यान देने के साथ इस वर्ष भारतीयों में आर्थिक रूप से स्वतंत्र होने की तत्परता को समझने का प्रयास करता है. सर्वे में शामिल अधिकांश उत्तर देने वाले लोग 34-55 वर्ष के आयु वर्ग के हैं. इस ऑल इंडिया सर्वे में स्क्रिपबॉक्स ने 1400 से अधिक वयस्कों को शामिल किया है.

इस वर्ष के अध्ययन में सामने आया है कि लोगों के बीच फाइनेंशियल प्लानिंग की समझ बढ़ी है. 75% से अधिक लोगों ने अपने जीवन के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए एक फाइनेंशियल प्लानिंग में निवेश शुरू किया है. वास्तव में, प्रत्येक दो भारतीयों में से एक ने अपनी संपत्ति में वृद्धि सुनिश्चित करने के लिए एक वित्तीय योजना को प्राथमिकता दी है. जबकि यह संख्या 2020 में 28% और 2021 में 41% थी.उत्तरदाताओं में से 40% का कहना है कि वे टेक्नोलॉजी की सटीकता और निर्णय लेने में सहायता के कारण डिजिटल निवेश प्लेटफार्मों की मदद लेना पसंद करते हैं. 32% लोगों ने कहा कि वे अपने दीर्घकालिक लक्ष्यों को पूरा करने के लिए फाइनेंशियल प्लानिंग करना चाहते हैं.

ये भी पढ़ें- हवाई सफर 31 अगस्त से हो जाएगा महंगा! सरकार किराए पर सीमा को करने जा रही खत्म

सेवानिवृत्ति योजना को लेकर आश्वस्त नहीं
इस वर्ष उत्तरदाताओं के बीच लंबी अवधि के निवेश और फाइनेंशियल फ्रीडम को लेकर जागरूकता बढ़ी है. हालांकि, अध्ययन ने रिटायरमेंट प्लानिंग के संबंध में तैयारियों की कमी को उजागर किया है. 80% लोग अपनी सेवानिवृत्ति के बाद की प्लानिंग के बारे में आश्वस्त नहीं हैं. अध्ययनों से पता चलता है कि 65% अपने वित्त का प्रबंधन स्वयं करते हैं, और केवल 20% पेशेवर सलाह लेने पर विचार कर रहे हैं. अपने स्वयं के वित्त का प्रबंधन और उनकी रिटायरमेंट प्लानिंग के लिए आत्मविश्वास में कमी पेशेवर सलाह के महत्व पर और पुख्ता करती है.

इक्विटी म्यूचुअल फंड पसंदीदा निवेश विकल्प
सर्वेक्षण में सामने आया कि 62% लोगों ने 30 वर्ष की आयु के बाद ही सेवानिवृत्ति के लिए सक्रिय रूप से बचत करना शुरू कर दिया है. इनमें से 75% लोगों ने इक्विटी म्यूचुअल फंड सबसे पसंदीदा निवेश विकल्प बताया है. इसके बाद 44% ने कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) और 43% ने व्यक्तिगत भविष्य निधि (PPF) को चुना है. सेवानिवृत्ति के लिए निवेश विकल्प के रूप में बीमा अंतिम विकल्प है और इसे केवल 23% द्वारा चुना गया है. इससे पता चलता है कि बीमा को निवेश विकल्प के बजाय सुरक्षा के रूप में अधिक देखा जा रहा है.

Tags: Business news, Employee provident fund, Investment, Personal finance, Retirement fund, Retirement savings

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें