• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Aadhaar नंबर पता लगने पर क्या बैंक खाते से पैसे निकाले जा सकते हैं? UIDAI ने दिया जवाब

Aadhaar नंबर पता लगने पर क्या बैंक खाते से पैसे निकाले जा सकते हैं? UIDAI ने दिया जवाब

अक्सर कोई न कोई ये सवाल ज़रुर पूछता है कि मेरा आधार नंबर जानकर कोई बैंक खाते से पैसे निकाल सकता है. इस पर आधार कार्ड बनाने वाली सरकारी संस्था यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) ने अपने जवाब में साफ कहा है कि ऐसा नहीं किया जा सकता.

अक्सर कोई न कोई ये सवाल ज़रुर पूछता है कि मेरा आधार नंबर जानकर कोई बैंक खाते से पैसे निकाल सकता है. इस पर आधार कार्ड बनाने वाली सरकारी संस्था यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) ने अपने जवाब में साफ कहा है कि ऐसा नहीं किया जा सकता.

अक्सर कोई न कोई ये सवाल ज़रुर पूछता है कि मेरा आधार नंबर जानकर कोई बैंक खाते से पैसे निकाल सकता है. इस पर आधार कार्ड बनाने वाली सरकारी संस्था यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) ने अपने जवाब में साफ कहा है कि ऐसा नहीं किया जा सकता.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    सुप्रीम कोर्ट ने आधार पर बड़ा फैसला सुनाया और कहा कि आधार की संवैधानिकता कुछ बदलावों के साथ बरकरार है. आधार कार्ड के गलत इस्तेमाल को लेकर लगातार खबरें आती रहती हैं. इसके बाद अक्सर कोई न कोई ये सवाल ज़रूर पूछता है कि क्या मेरा आधार नंबर जानकर कोई बैंक खाते से पैसे निकाल सकता है? आधार कार्ड बनाने वाली सरकारी संस्था यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) ने हाल ही में ऐसे कुछ सवालों के जवाब दिए थे. UIDAI ने साफ कहा है कि ऐसा नहीं किया जा सकता.

    ऐसे में आइए जानते हैं कि बैंक अकाउंट को लेकर उठे सवालों पर यूआईडीएआई का क्या कहना है:

    (1) सवाल: यूआईडीएआई (UIDAI) के पास मेरा बॉयोमीट्रिक्स, बैंक अकाउंट, पैन के साथ पूरा डाटा है क्या ये मेरे काम को ट्रैक कर सकता है.

    जवाब: ये बिल्कुल गलत है. UIDAI के डेटाबेस में केवल न्यूनतम जानकारी होती है. जो आप नामकंन या फिर अपडेट करते समय देते है. दोनों आखों की पुतलियों के स्कैन, चेहरे की फोटो, मोबाइल नंबर, ई-मेल आईडी होती है.

    (ये भी पढ़ें-अगर Aadhaar में की हुई हैं ये गलतियां तो फंस सकते हैं आप, ऐसे कर लें ठीक)

    ध्यान रहें, UIDAI के पास आपके बैंक खातों, शेयर, म्यूचुअल फंड, फाइनेंशियल, स्वास्थ रिकॉर्ड, परिवार की डिटेल, धर्म, जाति आदि की कोई जानकारी डेटाबेस में नहीं होती है.

    UIDAI के डेटाबेस में केवल न्यूनतम जानकारी होती है. जो आप नामकंन या फिर अपडेट करते समय देते है. दोनों आखों की पुतलियों के स्कैन, चेहरे की फोटो, मोबाइल नंबर, ई-मेलआईडी होती है.

    आधार अधिनिय 2016 की धारा 32 (3) किसी भी सत्यापन जानकारी को नियंत्रित, एकत्रित, अनुरक्षित, करने या संजोने से UIDAI को और अन्य संस्था को प्रतिबंधित करती है. (ये भी पढ़ें-आपके Aadhaar को कौन-कौन कर रहा है इस्तेमाल घर पर बैठकर ऐसे करें पता)

    (2) सवाल: जब मैं अपने बैंक खाते, शेयर, म्यूचुअल फंड और मोबाइल नंबर को आधार से जोड़ता हूं, तो क्या मेरी जानकारियों UIDAI को नहीं मिलती है.

    जवाब: बिल्कुल नहीं. जब आप अपने बैंक खाते, शेयर, म्यूचुअल फंड और मोबाइल नंबर को आधार से जोड़ता हूं, तो UIDAI वैरिफिकेशन (सत्यापन) के लिए आधार संख्या, आपके बायोमैट्रिक, आपका नाम भेजता है. बैंक खाते की कोई डिटेल UIDAI को नहीं भेजी जाती है. यूआईडीएआई आपकेबैंक, निवेश, बीमा आदि की डिटेल कभी भी जमा नहीं करता है.

    आधार कार्ड खो जाए तो करें ये काम, इस तरह आसानी से बन जाएगा यह


    (3) सवाल: अगर किसी को मेरा आधार नंबर पता चल जाए तो क्या वो बैंक खाते को हैक कर पैसे निकाल सकता है.

    जवाब: बिल्कुल गलत, जिस तरह कोई भी आपके ATM कार्ड के नंबर की जानकारी रखने पर भी ATM मशीन से पैसे नहीं निकाल सकता है. वैसे ही आपके आधार नंबर की जानकारी रखने पर कोई भी आपके खाते को हैक नहीं कर सकता है, और न ही पैसे निकाल सकता है.

    अगर कोई अपने बैंक द्वारा दिए गए पिन, ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) को किसी को नहीं बताता तब तक आपका बैंक खाता पूरी तरह से सेफ है. आधार के कारण अभी तक किसी को भी पैसे से जुड़ा नुकसान नहीं हुआ है.

    https://uidai.gov.in/images/Aadhaar_FAQs_HINDI_17Jan2018_FINAL.pdf

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज