• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • बनाना है बच्चे का आधार तो तैयार कर लें ये डॉक्युमेंट्स, एडमिशन के वक्त भी आएगा काम

बनाना है बच्चे का आधार तो तैयार कर लें ये डॉक्युमेंट्स, एडमिशन के वक्त भी आएगा काम

जानिए बच्चे का आधार बनाने के लिए क्या हैं​ नियम

जानिए बच्चे का आधार बनाने के लिए क्या हैं​ नियम

देशभर में स्कूलों में एडमिशन की प्रक्रिया शुरू होने वाला है. ऐसे में छोटे बच्चों के एडमिशन के लिए आधार का होना जरूरी है. ऐसे में आपके लिए जरूरी है​ कि आप समय रहते अपने बच्चे का आधार कार्ड बना लें.

  • Share this:
    नई दिल्ली. बच्चों के एडमिशन की प्रक्रिया में शुरू होने वाला है.माता-पिता अपने पसंदीदा स्कूल में बच्चे का एडमिशन कराने के लिए भागदौड़ करना शुरू कर चुके हैं. बच्चों के एडमिशन की प्रक्रिया कई डॉक्युमेंट्स के जरूरत होती है, जिनमें से एक आधार कार्ड (Aadhaar Card) भी है. यही कारण है कि बीते कुछ समय में आधार कार्ड जारी करने वाली संस्था UIDAI भारी मात्रा में बच्चों का आधार बनवाने का एप्लीकेशन आया है.

    5 साल से कम उम्र के बच्चे के लिए
    आधार कार्ड 5 साल की उम्र से छोटे व बड़े बच्चों के लिए बनाया जा सकता है. अगर आपका बच्चा 5 साल की उम्र से छोटा है तो इसके लिए आपको उसके जन्म प्रमाण पत्र यानी बर्थ सर्टिफिकेट ​की जरूरत होगी. अगर जन्म प्रमाण पत्र नहीं है तो बच्चे के माता-पिता में से ​भी किसी एक के आधार कार्ड की मदद से काम बन सकता है. 5 साल से छोटे उम्र के बच्चों का बायोमेट्रिक जानकारी नहीं ली जाती है. लेकिन, जब उसकी उम्र 5 साल से अधिक हो जाती है तो बायोमेट्रिक रिकॉर्ड अपडेट कराना होता है.

    यह भी पढ़ें: रेंट अग्रीमेंट की मदद से अपडेट करें आधार में पता, इन 2 बातों का रखें खास ध्यान



    5 साल से अधिक उम्र के बच्चे के लिए
    वहीं, अगर आपके बच्चे की उम्र 5 साल से अधिक है तो इसके लिए आपको स्कूल के लेटर हेड और ग्राम प्रधान या सभासद का लेटर भी चाहिए होगा. आधार कार्ड के लिए आवेदन करने से पहले इन सभी डॉक्युमेंट्स को पहले जुटा लें. 5 साल से अधिक उम्र के बच्चों का आवेदन के दौरान बायोमेट्रिक रिकॉर्ड सबमिट किया जाता है, लेकिन 15 साल बाद इसे फिर से एक बार ​अपडेट कराना होगा.कैसे करें आवेदन
    बच्चे का आधार कार्ड बनवाने के लिए आप अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस या आधार सेवा केंद्र जा सकते हैं.

    >> आधार एनरोलमेंट सेंटर या आधार सेवा केंद्र पर जाकर आपको एक एनरोलमेंट फॉर्म भरना होगा.

    >> अगर आपके बच्चे का वैलिड एड्रेस प्रुफ नहीं हो तो बच्चे के माता-पिता का आधार नंबर भरना होगा.

    यह भी पढ़ें: 1 अप्रैल से बदल जाएगा 2 बैंकों का नाम और PNB का लोगो, ग्राहकों पर होगा ये असर



    >> सभी जरूरी डॉक्युमेंट्स के साथ आपको ये फॉर्म भी सबमिट करना होगा

    >> इस फॉर्म को जमा करने के बाद बच्चे का बायोमेट्रिक रिकॉर्ड रिकॉर्ड किया जाएगा. इसमें हाथ की 10 अंगुलियों की फिंगरप्रिंट, आइरिस स्कैन और तस्वीर लिया जाएगा.

    >> जब यह प्रक्रिया पूरी हो जाएगी तो इसके बाद आपको एक एनरोलमेंट स्लिप जेनरेट कर आपको दिया जाएगा.

    >> इस एनरोलमेंट स्लिप पर एनरोलमेंट आईडी, नंबर और तारीख दी जाएगी.

    >> इस एनरोलमेंट आईडी की मदद से आप आधार स्टेटस के बारे में पता कर सकते हैं.

    >> आधार एनरोलमेंट के 90 दिनों के अंदर आधार को आवेदनकर्ता के घर पर पोस्ट कर दिया जााता है.

    रेल किराये में क्यों हुई बढ़ोतरी? रेल मंत्री ने संसद में दी जानकारी

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन