• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • राहत! Aadhaar को PF खाते से नहीं किया है लिंक? तब भी रहे बेफ्रिक.. मिलेगा पैसा, जानिए वजह

राहत! Aadhaar को PF खाते से नहीं किया है लिंक? तब भी रहे बेफ्रिक.. मिलेगा पैसा, जानिए वजह

UAN के साथ आधार को जोड़ने और उसके सत्यापन की समय सीमा बढाकर 31 नवंबर, 2021 कर दी गई है.

UAN के साथ आधार को जोड़ने और उसके सत्यापन की समय सीमा बढाकर 31 नवंबर, 2021 कर दी गई है.

UAN के साथ आधार को जोड़ने और उसके सत्यापन की समय सीमा बढाकर 31 नवंबर, 2021 कर दी गई है.

  • Share this:

    नई दिल्ली. दिल्ली उच्च न्यायालय (Delhi high court) ने कर्मचारियों के भविष्य निधि खाते (EPF) के यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) के साथ आधार संख्या (Aadhaar number) को जोड़ने और उसके सत्यापन की समय सीमा बढाकर 31 नवंबर, 2021 कर दी.

    न्यायाधीश प्रतिभा एम सिंह ने इस मामले से जुड़ी सुनवाई करते हुए कहा कि इस बढ़ी हुई समय सीमा तक नियोक्ताओं को उन कर्मचारियों के संबंध में जिनके यूएएन के साथ आधार संख्या नहीं जुड़ी है के मामले में भविष्य निधि जमा (EPFO)करने की अनुमति होगी और उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जायेगी.

    जानिए क्या कहा गया है?
    आधार के फैसले के मुताबिक, आधार के साथ सत्यापित अथवा प्रमाणत करने में असफल रहने पर कानून के तहत कर्मचारियों को किसी भी लाभ से वंचित नहीं रखा जा सकता. आदेश में कहा गया, जिन व्यक्तियों का आधार संख्या से यूएएन को जोड़े जाना बाकी है, उन्हें इसे पूरा करने के लिए 30 नवंबर, 2021 तक का समय दिया जाएगा. न्यायधीश ने कहा, इस बीच, नियोक्ताओं को उन कर्मचारियों के संबंध में भविष्य निधि अंशदान जमा करने की अनुमति होगी, जिनके आधार संख्या को यूएएन से जोड़ा जाना बाकी है. वही जिन्होंने अभी तक यह नहीं किया है, उनके खिलाफ कोई दंडात्मक उपाय भी नहीं किया जायेगा.

    ये भी पढ़ें –21.49 रुपये वाला स्टाॅक हुआ ₹343.5 का, तीन महीने में 1 लाख के बन गए 15.98 लाख रुपये, क्या आपके पास है?

    शिकायत निवारण अधिकारी की नियुक्ति करेगा EPFO
    एसोसिएशन ऑफ इंडस्ट्रीज एंड इंस्टीट्यूशंस की याचिका पर सुनवाई कर रही अदालत ने स्पष्ट किया कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) एक शिकायत निवारण अधिकारी की नियुक्ति करेगा. इस अधिकारी को याचिकाकर्ता के सदस्यों या किसी अन्य नियोक्ता द्वारा संपर्क किया जा सकता है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके जमा में देरी नहीं हो रही है और यह समय पर किया गया है.

    अदालत ने कहा कि ऐसे कम्रचारी जिनका आधार नंबर पहले ही ईपीएफओ को उपलब्ध कराया जा चुका है, उनके मामले में कंपनियों को भारतीय सार्वभौमिक पहचान प्राधिकरण से इसके सत्यापन की प्रतीक्षा किये बिना भविष्य निधि को उनके खाते में जमा कराया जाता रहेगा. इस दौरान सत्यापन की प्रक्रिया जारी रहेगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज