कोरोना वैक्‍सीन के बाद फिर बजेगा भारत का डंका, अब विदेशों को देगा 319 मिलियन सिरिंज

विश्‍व को दो दो कोरोना वैक्‍सीन देने के साथ ही भारत अब संसार के देशों को वैक्‍सीन लगाने के लिए सिरिंज भी देगा.  (सांकेतिक तस्‍वीर)

विश्‍व को दो दो कोरोना वैक्‍सीन देने के साथ ही भारत अब संसार के देशों को वैक्‍सीन लगाने के लिए सिरिंज भी देगा. (सांकेतिक तस्‍वीर)

आत्‍मनिर्भर भारत की दिशा में एक और कदम बढ़ाते हुए अब सिर्फ कोरोना वैक्‍सीन ही नहीं बल्कि इस वैक्‍सीन के लिए सिरिंज भी भारतीय होगी. सबसे खास बात होगी कि देश में सिरिंज उपलब्‍ध कराने के साथ ही भारतीय कंपनी हिन्‍दुस्‍तान सिरिंज्‍स एंड मेडिकल डिवाइसेज लिमिटेड (HMD) विदेशों में भी लाखों की संख्‍या में सिरिंज सप्‍लाई करेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 11, 2021, 7:24 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. वैश्विक महामारी के खिलाफ दो-दो सफल कोरोना वैक्‍सीन बनाकर भारत ने चिकित्‍सा के क्षेत्र में पहले ही इतिहास रच दिया है. वहीं अब कोविड वैक्‍सीन (Covid Vaccine) लगाने के लिए सिरिंज (Syringe) की सप्‍लाई होना आत्‍मनिर्भर भारत की ओर एक बड़ा कदम साबित होने जा रहा है. विश्‍व की सबसे बड़ी सिरिंज निर्माताओं में से एक भारतीय कंपनी हिंदुस्‍तान सिरिंज्‍स एंड मेडिकल डिवाइसेज (HMD) लिमिटेड बड़ी मात्रा में देश के अलावा विदेशों में भी सिरिंज भेजने जा रही है.

एचएमडी को हाल ही में केंद्र सरकार की ओर से देशभर में चल रहे कोरोना वैक्‍सीनेशन प्रोग्राम (Corona Vaccination Programme) के लिए 2650 लाख ऑटो डिसेबल सिरिंज (Auto Disable Syringe) बनाने का ऑर्डर दिया गया है. यह कंपनी भारत को सितंबर 2021 तक 440 मिलियन यानी 4400 लाख सिरिंज उपलब्‍ध कराएगी. जिसमें से 1770 लाख सिरिंज अप्रैल 2021 तक ही देनी हैं. जबकि कोरोना वैक्‍सीनेशन के लिए बड़ी संख्‍या में विदेशों में भी सिरिंज भेजी जाएगी.

न्‍यूज 18हिंदी से बातचीत में एचएमडी के मैनेजिंग डायरेक्‍टर राजीव नाथ ने बताया कि उनकी कंपनी न केवल आत्‍मनिर्भर भारत (Aatm nirbhar Bharat)के तहत सबसे पहले देश की जरूरतों को पूरा कर रही है बल्कि ग्‍लोबल वैक्सिनेशन प्रोजेक्‍ट (Global Vaccination Project) के लिए भी पूरा सहयोग दे रही है. एचएमडी विदेशी फाइजर की वैक्‍सीन के लिए 0.3 एमएल, एस्‍ट्रेजेनेका या सीरम और भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की वैक्‍सीन के लिए 0.5 एमएल की एडी कोजेक सिरिंज बना रही है. इतना ही नहीं विश्‍व में पीला ज्‍वर या मीजल्‍स, हैपेटाइटिस बी, बीसीजी (BCG) आदि के लिए भी सिरिंज तैयार कर रही है.

भारत से विदेशों को भेजी जाएंगी 3190 लाख सिरिंजें

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज