Reliance Retail में अबुधाबी इंवेस्‍टमेंट अथॉरिटी करेगी 5,512 करोड़ का निवेश! मिलेगी 1.20% हिस्सेदारी

अबुधाबी इंवेस्‍टमेंट अथॉरिटी ने RIL की सहयोगी कंपनी रिलायंस रिटेल में बड़े निवेश की घोषणा की है.
अबुधाबी इंवेस्‍टमेंट अथॉरिटी ने RIL की सहयोगी कंपनी रिलायंस रिटेल में बड़े निवेश की घोषणा की है.

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज (RIL) की सहयोगी कंपनी रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) में हाल के दिनों में सात कंपनियों ने आठ निवेश किए हैं. अब तक रिलायंस रिटेल में विभिन्‍न कंपनियों ने 37 हजार करोड़ रुपये से ज्‍यादा का निवेश (Investment) किया है. इससे अलग-अलग कंपनियों को रिलायंस रिटेल में कुल 9 फीसदी हिस्‍सेदारी (Stake) हासिल हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2020, 7:55 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना संकट के बीच रिलायंस इंडस्‍ट्रीज (RIL) की सहयोगी कंपनी रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) में दुनियाभर की कंपनियों की ओर से किए जा रहे निवेश का सिलसिला जारी है. इसी कड़ी में अबुधाबी इंवेस्‍टमेंट अथॉरिटी (ADIA) रिलायंस रिटेल वेंचर (RRVL) में 1.20 फीसदी हिस्‍सेदारी खरीदने के लिए 5,512.50 करोड़ रुपये का निवेश कर रही है. हाल के दिनों में सात कंपनियों की ओर से ये रिलायंस रिटेल में किया गया 8वां बड़ा निवेश है. आरआईएल के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने कहा कि एडीआईए का निवेश रिलायंस रिटेल के शानदार प्रदर्शन और आगे बढ़ने की जबरदस्‍त क्षमता को दिखा रहा है. हम एडीआईए के इस निवेश से अच्‍छा अनुभव कर रहे हैं. हमें उम्‍मीद है कि चार दशक से ज्‍यादा समय से वैश्विक स्‍तर पर हमारी मजबूत शाख से सभी को लाभ मिलेगा.

7 कंपनियों ने अब तक खरीदी है रिलायंस रिटेल की 9 फीसदी हिस्‍सेदारी
रिलायंस रिटेल के मुताबिक, यह निवेश 4.28 लाख करोड़ रुपये के इक्विटी वैल्यूएशन पर होगा. बता दें कि अब तक रिलायंस रिटेल में कुल 37,710 करोड़ रुपये का निवेश हो चुका है. इससे दुनियाभर की विभिन्‍न कंपनियों को रिलायंस रिटेल की करीब 9 फीसदी हिस्सेदारी मिली है. एडीआईए में प्राइवेट इक्विटी डिपार्टमेंट के एग्‍जीक्‍यूटिव डायरेक्‍टर हमद शाहवान अल्‍दहाहेरी ने कहा कि रिलायंस रिटेल ने तेजी से भारत के खुदरा कारोबार में मजबूती के साथ जगह बनाई है. इस समय रिलायंस रिटेल भारत के रिटेल बिजनेस का नेतृत्‍व कर रही है. इसके लिए कंपनी डिजिटल सप्‍लाई चेन का इस्‍तेमाल भी कर रही है. इससे कंपनी आगे भी मजबूती के साथ बढ़ोतरी करेगी. इस निवेश के जरिये हम एशिया के लीडिंग मार्केट में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने की रणनीति पर काम कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें- इंडियन रेलवे ने बदला बड़ा नियम, अब इतने मिनट पहले जारी होगा Train Ticket Reservation Chart
अब तक दुनियाभर की इन कंपनियों ने RRVL में किया है बड़ा निवेश


रिलायंस रिटेल में पिछले हफ्ते जीआईसी ने 5,512.5 करोड़ और ग्लोबल इनवेस्टमेंट फर्म टीपीजी 1,837.5 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा की थी. इस निवेश के जरिये जीआईसी को 1.22 फीसदी और टीपीजी को 0.41 फीसदी हिस्सेदारी मिली. इससे पहले केकेआर एंड कंपनी, जनरल अटलांटिक, अबु धाबी का सरकारी फंड मुबाडला और सिल्वर लेक पार्टनर्स निवेश की घोषणा कर चुकी हैं. मुबाडला इंवेस्‍टमेंट कंपनी ने रिलायंस रिटेल वेंचर में 6,247.5 करोड़ रुपये का निवेश कर 1.40 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी है. बता दें कि मुबाडला ने जियो प्लेटफॉर्म में भी 1.2 अरब डॉलर का निवेश किया था.

ये भी पढ़ें- Good News: मुश्किल दौर में भी इस बैंक ने बढ़ाई सैलरी! त्‍योहार से पहले कर्मचारियों को 12 फीसदी तक का दिया Hike

ज्‍यादा निवेश कंप‍नी के लिए लगाया गया है RRVL का कम वैल्‍यूएशन
प्राइवेट इक्विटी फर्म जनरल अटलांटिक पार्टनर्स ने रिलायंस रिटेल में 3,675 करोड़ रुपये का निवेश कर 0.84 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी है. इसी कंपनी ने दो बार रिलायंस रिटेल में निवेश किया. दूसरी बार में कंपनी ने रिलायंस रिटेल में 1,700 करोड़ रुपये का निवेश किया. अटलांटिक ने जियो प्लेटफॉर्म में भी 6,598 करोड़ रुपये का निवेश किया था. रिलायंस रिटेल में शुरुआती दो निवेश 4.21 लाख करोड़ रुपये के वैल्यूएशन पर किए गए थे. इसके बाद जनरल अटलांटिक को 4.28 लाख करोड़ रुपये के वैल्यूएशन पर हिस्सेदारी मिली. साफ है कि जो कंपनी ज्यादा निवेश करेगी, उसके लिए कम वैल्यूएशन लगाया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज