Q4 Results: अडाणी ट्रांसमिशन ने जारी किए चौथी तिमाही के नतीजे, मुनाफा चार गुना बढ़कर 257 करोड़ रहा

अडाणी ग्रुप के चैयरमेन गौतम अडाणी

अडाणी ट्रांसमिशन (Adani Transmission) ने कहा कि मार्च तिमाही में उसका कंसोलिडेटिड नेट प्रॉफिट चार गुना से ज्यादा बढ़कर 256.55 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. विभिन्न कारोबार से जुड़े अडाणी समूह की कंपनी अडाणी ट्रांसमिशन (Adani Transmission) का कंसोलिडेटिड नेट प्रॉफिट मार्च 2021 को समाप्त तिमाही में चार गुना बढ़कर 256.55 करोड़ रुपये रहा. अडाणी ट्रांसमिशन ने गुरुवार को बीएसई (BSE) को दी सूचना में कहा कि इससे पूर्व वित्त वर्ष 2019-20 की इसी तिमाही में कंपनी को 58.97 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था.

    कंपनी की कुल आय 2020-21 की चौथी तिमाही जनवरी-मार्च में 2,875.60 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 2019-20 की इसी तिमाही में 3,317.51 करोड़ रुपये थी. पूरे वित्त वर्ष 2020-21 में कंपनी का एकीकृत शुद्ध लाभ 1,289.57 करोड़ रुपये रहा जो एक साल पहले 2019-20 में 706.49 करोड़ का रहा था. अडाणी पावर की आय आलोच्य वित्त वर्ष में 10,458.93 करोड़ रुपये रही जो इससे पूर्व वित्त वर्ष 2019-20 में 11,681.29 करोड़ रुपये थी.

    ये भी पढ़ें- कोरोना की मार! महामारी ने भारत में 23 करोड़ लोगों को गरीबी में धकेला, दूसरी लहर से हालात हुए बदतर

    अडाणी ग्रुप के चैयरमेन गौतम अडाणी ने कहा, ''पावर और ट्रांसमिशन सेक्टर में पिछले दो दशक में जबरदस्त प्रगति हुई है। सरकार की सौभाग्या जैसी योजनाओं और नवीकरण पर जोर देने से बिजली की पहुंच में आज काफी विस्तार हुआ है.''

    अडाणी पावर को मार्च तिमाही में 13.13 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ
    वहीं, देश में निजी क्षेत्र की सबसे बड़ी बिजली उत्पादक कंपनी अडाणी पावर का एकीकृत शुद्ध लाभ मार्च 2021 को समाप्त तिमाही में 13.13 करोड़ रुपये रहा. मुख्य रूप से आय बढ़ने के कारण कंपनी लाभ में आई है. अडाणी पावर ने गुरुवार को बीएसई को दी सूचना में कहा कि इससे पूर्व वित्त वर्ष 2019-20 की इसी तिमाही में कंपनी को 1,312.86 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था.

    कंपनी की कुल आय 2020-21 की चौथी तिमाही जनवरी-मार्च में बढ़कर 6,902.01 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 2019-20 की इसी तिमाही में 6,327.57 करोड़ रुपये थी. पूरे वित्त वर्ष 2020-21 में कंपनी का एकीकृत शुद्ध लाभ 1,269.98 करोड़ रुपये रहा जबकि एक साल पहले 2019-20 में उसे 2,274.77 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. अडाणी पावर की आय आलोच्य वित्त वर्ष में 28,149.68 करोड़ रुपये रही जो इससे पूर्व वित्त वर्ष 2019-20 में 27,841.81 करोड़ रुपये थी.