Home /News /business /

aether industries ipo subscribed 6 26 times on final day of offer arnod

Aether Industries IPO: क्यूआईबी ने दिखाई खूब दिलचस्पी, अंतिम दिन 6.26 गुना हुआ सब्सक्राइब

इस आईपीओ से जुटाई गई राशि का इस्तेमाल कंपनी गुजरात के सूरत में प्रस्तावित नए प्रोजेक्ट में करेगी.

इस आईपीओ से जुटाई गई राशि का इस्तेमाल कंपनी गुजरात के सूरत में प्रस्तावित नए प्रोजेक्ट में करेगी.

इस आईपीओ को रिटेल निवेशकों से बहुत अच्छी प्रतिक्रिया नहीं मिली. इसके उलट क्यूआईबी ने इसे लेकर अंतिम दिन काफी जोश दिखाया. क्यूआईबी के कोटे को 17.57 गुना सब्सक्रिप्शन मिला. वहीं गैर संस्थागत निवेशकों (एनआईआई) के कोटे में 2.52 गुना सब्सक्राइब हुआ. रिटेल निवेशकों का कोटा सिर्फ 1.14 गुना सब्सक्राइब हुआ.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. स्पेशियलिटी केमिकल बनाने वाली एथर इंडस्ट्रीज (Aether Industries) के आईपीओ को अंतिम दिन निवेशकों की जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली. इस वजह से यह इश्यू 6.26 गुना सब्सक्राइब हुआ. पात्र-संस्थागत निवेशकों (QIB) ने अंतिम दिन इसमें काफी दिलचस्पी दिखाई.

आंकड़ों के मुताबिक, इस पब्लिक इश्यू को 93,56,193 शेयरों के मुकाबले 5,85,34,586 शेयरों की बोलियां मिली हैं. इस आईपीओ का प्राइस बैंड 610-642 रुपये तय किया था. इश्यू के जरिये कंपनी 808.04 करोड़ रुपये जुटाने की तैयारी में है. एंकर निवेशकों से कंपनी ने पहले ही 240 करोड़ रुपये जुटा लिए हैं.

ये भी पढ़ें- बाजार में जबरदस्त तेजी, मगर LIC ने आज बनाया नया Low, अब क्या करें निवेशक?

रिटेल निवेशकों ने नहीं दिखाया जोश

इस आईपीओ को रिटेल निवेशकों से बहुत अच्छी प्रतिक्रिया नहीं मिली. इसके उलट क्यूआईबी ने इसे लेकर अंतिम दिन काफी जोश दिखाया. क्यूआईबी के कोटे को 17.57 गुना सब्सक्रिप्शन मिला. वहीं गैर संस्थागत निवेशकों (एनआईआई) के कोटे में 2.52 गुना सब्सक्राइब हुआ. रिटेल निवेशकों का कोटा सिर्फ 1.14 गुना सब्सक्राइब हुआ. आईपीओ के तहत 627 करोड़ रुपये के फ्रेश इश्यू जारी किए गए. जबकि प्रमोटर्स ने ओएफएस (ऑफर फॉर सेल) के जरिये 28.2 लाख इक्विटी शेयरों की बिक्री की.

ऐसे होगा फंड का इस्तेमाल

इस आईपीओ से जुटाई गई राशि का इस्तेमाल कंपनी गुजरात के सूरत में प्रस्तावित नए प्रोजेक्ट में करेगी. इसके अलावा वर्किंग कैपिटल जरूरतों और कर्ज चुकाने में भी इसका इस्तेमाल किया जाएगा. एथर इंडस्ट्रीज स्पेशियलटी केमिकल्स बनाती है. 4एमईपी, एमएमबीसी, ओटीबीएन, एन-ऑक्टिल-डी-ग्लूकामीन, डेल्टा-वलेरेक्टोन और बाइफेन्थ्रिन अल्कोहल जैसी स्पेशियलिटी केमिकल बनाने वाली यह देश की इकलौती कंपनी है. कंपनी के पोर्टफोलियो में 22 प्रॉडक्ट हैं. इनकी बिक्री 17 से अधिक देशों की 30 कंपनियों और 100 से अधिक घरेलू कंपनियों को की जाती है.

ये भी पढ़ें- BPCL Disinvestment: भारत पेट्रोलियम की बिक्री टली, नहीं मिला खरीदार तो सरकार ने रद्द की प्रक्रिया

2021-22 के पहले 9 महीने (अप्रैल-दिसंबर) में कंपनी का शुद्ध मुनाफा बढ़कर 82.91 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. जबकि कुल राजस्व 449.3 करोड़ रुपये रहा है. कंपनी के मुनाफे में लगातार वृद्धि हो रही है. 2018-19 में कंपनी को 23.33 करोड़ रुपये, 2019-20 में 39.96 करोड़, और 2020-21 71.12 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ था.

Tags: Business news in hindi, IPO, NSE, Stock Markets

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर