Home /News /business /

प्रयागराज में अक्‍टूबर में लगेगी 'हुनर हाट', इस बार स्‍वदेशी खिलौना कारीगरों को मिलेगा ज्‍यादा मौका

प्रयागराज में अक्‍टूबर में लगेगी 'हुनर हाट', इस बार स्‍वदेशी खिलौना कारीगरों को मिलेगा ज्‍यादा मौका

केंद्रीय मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने बताया कि इस बार हुनर हाट में स्‍वदेशी खिलौना कारीगरों को सबसे ज्‍यादा मौका दिया जाएगा. (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने बताया कि इस बार हुनर हाट में स्‍वदेशी खिलौना कारीगरों को सबसे ज्‍यादा मौका दिया जाएगा. (फाइल फोटो)

अल्पसंख्यक मामलों का मंत्रालय (Ministry of Minority Affairs) 9 अक्टूबर से उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में 'हुनर हाट' (Hunar Haat) का आयोजन करेगा. इस बार की थीम 'लोकल से ग्लोबल' रखी गई है. इस बार 30 फीसदी से ज्‍यादा स्‍टॉल स्‍वदेशी खिलौना (Indigenous Toys) बनाने वाले कारीगरों के लिए रखे जाएंगे.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :
    नई दिल्ली. कोरोना संकट के कारण छह महीने बंद रहने के बाद अब 'हुनर हाट' फिर शुरू होने जा रही हैं. अल्पसंख्यक मामलों का मंत्रालय (Ministry of Minority Affairs) 9 अक्टूबर से उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में 'हुनर हाट' का आयोजन करेगा. इस बार की थीम 'लोकल से ग्लोबल' रखी गई है. मंत्रालय के मुताबिक, इस बार हुनर हाट में स्वदेशी खिलौने (Indigenous Toys) आकर्षण का केंद्र होंगे. अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (MA Naqvi) ने बताया कि पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 'मन की बात' कार्यक्रम में स्वदेशी खिलौनों को प्रोत्साहित करने का आह्वान किया था.

    30 फीसदी से ज्‍यादा स्‍टॉल स्‍वदेशी खिलौना कारीगरों के लिए होंगे
    नकवी ने कहा कि देश का हर क्षेत्र हुनर के ऐसे उस्‍तादों से भरा पड़ा है, जो लकड़ी, ब्रास, बांस, शीशे, कपड़े, कागज और मिटटी के खिलौने बनाते हैं. उनके स्वदेशी उत्पादों को बड़ा मौका और बाजार मुहैया कराने के लिए 'हुनर हाट' (Hunar Haat) बड़ा मंच देने जा रहा है. इस बार हुनर हाट में 30 फीसदी से ज्यादा स्‍टॉल स्वदेशी खिलौनों के कारीगरों के लिए होंगे. स्वदेशी खिलौनों की आकर्षक पैकेजिंग के लिए भी विभिन्‍न संस्थाओं के जरिये दस्तकारों-शिल्पकारों की मदद की जाएगी.

    ये भी पढ़ें - SBI किसानों के लिए लॉन्‍च करेगा नई लोन स्‍कीम, जानें 'SAFAL' के बारे में सबकुछ

    पांच साल में 5 लाख से ज्‍यादा कारीगरों को हुनर हाट से मिला काम
    केंद्रीय मंत्री के मुताबिक, पिछले पांच साल में 5 लाख से ज्यादा भारतीय दस्तकारों, शिल्पकारों को रोजगार मुहैया कराने वाले हुनर हाट के स्‍वदेशी हैंडिक्राफ्ट्स को लोगों ने काफी पसंद किया है. प्रयागराज में 'हुनर हाट' 9 से 18 अक्टूबर तक चलेगी. कोरोना संकट के कारण पिछले छह महीने हुनर हाट का आयोजन नहीं हो पाया. पिछली हुनर हाट मार्च 2020 में रांची में आयोजित हुई थी. उससे पहले मंत्रालय ने फरवरी में दिल्ली में इंडिया गेट के नजदीक 'हुनर हाट' लगाई था, जिसमें पीएम मोदी भी पहुंचे थे. इस दौरान उन्‍होंने लिट्टी-चोखा खाया था.

    ये भी पढ़ें- शेयर बाजार में पैसा लगाने वालों के लिए बड़ी खबर, SEBI ने दी नए नियम को मंजूरी

    अक्‍टूबर, 2020 से मार्च 2021 तक इन शहरों में लगेगी 'हुनर हाट'
    केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की ओर से अभी तक देश के विभिन्‍न शहरों भागों में दो दर्जन से अधिक 'हुनर हाट' का आयोजन किया जा चुका है. मंत्रालय के मुताबिक, हुनर हाट का आयोजन जयपुर में 23 अक्टूबर से 1 नवंबर, चंडीगढ़ में 7 से 15 नवंबर, इंदौर में 21 से 29 नवंबर, मुंबई में 22 से 31 दिसंबर, हैदराबाद में 8 से 17 जनवरी 2021, लखनऊ में 23 से 31 जनवरी, दिल्ली में 13 से 21 फरवरी, रांची में 20 से 28 फरवरी, कोटा में 5 से 14 मार्च होगा.

    Tags: Business news in hindi, Mukhtar abbas naqvi, Prayagraj News, Uttar pradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर