लाइव टीवी

प्याज के बाद अब देश में तूर दाल की कीमतें 100 रु के पार, काबू पाने के लिए सरकार कर रही है तैयारी

News18Hindi
Updated: November 28, 2019, 1:54 PM IST
प्याज के बाद अब देश में तूर दाल की कीमतें 100 रु के पार, काबू पाने के लिए सरकार कर रही है तैयारी
देश में तूर दाल की कीमतें 100 रुपये प्रति किलो के पार

प्याज के बढ़ते दाम (Onion Price) से बेहाल जनता पर जल्द और भारी मार पड़ने वाली है. सरकार ने तूर दाल के आयात का चार लाख टन कोटा तय किया है, लेकिन अभी तक व्यापारी 2.15 लाख टन ही आयात किया है ऐसे में सरकार डेडलाइन 31 दिसंबर तक बढ़ाने की तैयारी कर रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2019, 1:54 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्याज के बढ़ते दाम (Onion Price) से बेहाल लोगों पर जल्द और भारी मार पड़ने वाली है. आपको बता दें कि देश के बड़े महानगर- दिल्ली, कोलकाता और चेन्नई में प्याज के दाम 100 से 120 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गए हैं. कारोबारियों का कहना है कि अगर मंडियों में प्याज की सप्लाई (Onion Supply) नहीं बढ़ती है तो कीमतें और बढ़ सकती हैं. वहीं दिल्ली में तूर का दाम (Toor Dal Price) 98 प्रति किलो हो चुका है. सरकार ने तूर दाल के आयात का 4 लाख टन कोटा तय किया है. हालांकि व्यापारी अभी तक 2.15 लाख टन ही आयात किया है. ऐसे में सरकार डेडलाइन 31 दिसंबर तक बढ़ाने की तैयारी कर रही है. दरअसल सरकार ने पहले सभी व्यापारियों को आदेश देते हुए विदेशों से खरीद हुई दाल को अक्टूबर महीने में ही भारत लाने के निर्देश दिए थे. लेकिन अब इस तारीख को आगे बढ़ाकर 15 नवंबर 2019 कर दिया है. हालांकि, व्यापारियों की मांग तारीख को बढ़ाकर 31 दिसंबर तक करने की थी.

ये भी पढ़ें: साल के 365 दिन खुले रहते हैं ये बैंक, 24 घंटे में कभी भी कर सकते हैं लेनदेन

क्यों बढ़ेंगे दाम
>> तूर दाल के दामों में तेजी आने की उम्मीद की जा रही है, क्योंकि सरकार के आयात का कोटा भी पूरा नहीं हुआ है. सरकार ने 4 लाख टन तूर दाल के आयात का कोटा तय किया था.

>> सूत्रों के मुताबिक अभी तक सवा 2 लाख टन दाल आयात हुई है. सरकार एक बार फिर डेडलाइन बढ़ाने की तैयारी कर रही है. बता दें कि सरकार 31 दिसंबर तक इंपोर्ट की डेडलाइन बढ़ा सकती है. इससे पहले भी सरकार ने 15 नवंबर तक तूर इंपोर्ट की डेडलाइन बढ़ाई थी.

अब क्या होगा
चालू वित्त वर्ष 2019-20 में सरकार ने तूर (अरहर) का आयात सिर्फ चार लाख टन करने का कोटा तय किया है. अगर व्यापारी नवंबर में दाल का आयात पूरा नहीं करते तो व्यापारियों को भविष्य में दाल आयात का कोटा नहीं दिया जाएगा.ये भी पढ़ें: प्याज सस्ती करने के लिए सरकार ने उठाया एक और कदम, राज्यों को दिया ये आदेश

(असीम मनचंदा, संवाददाता- CNBC आवाज़)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2019, 1:25 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर