सुप्रीम कोर्ट के जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस से लुढ़का शेयर बाजार!

देश के इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के जजों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर न्यायपालिका के हालात पर चिंता व्यक्त की. इधर प्रेस कॉन्फ्रेंस चल रहा था, उधर बाजार गिर रहा था.

फर्स्टपोस्ट.कॉम
Updated: January 12, 2018, 3:24 PM IST
सुप्रीम कोर्ट के जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस से लुढ़का शेयर बाजार!
देश के इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के जजों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर न्यायपालिका के हालात पर चिंता व्यक्त की. इधर प्रेस कॉन्फ्रेंस चल रहा था, उधर बाजार गिर रहा था.
फर्स्टपोस्ट.कॉम
Updated: January 12, 2018, 3:24 PM IST
देश के इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के जजों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर न्यायपालिका के हालात पर चिंता व्यक्त की. इधर प्रेस कॉन्फ्रेंस चल रहा था, उधर बाजार गिर रहा था. दोपहर बाद यह 256 अंक नीचे गिर गया.

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज सुबह 34606 प्वाइंट पर खुला. दोपहर 12.15 बजे यह 34550.2 प्वाइंट पर पहुंच चुका था. 12:35 बजे जब प्रेस कॉन्फ्रेंस खत्म हुआ, उसके ठीक पांच मिनट बाद 183 प्वाइंट नीचे जा चुका था. बाजार गिरावट से पहले दोपहर के आंकड़ों 34349.9 अंक की तुलना में 256 अंक नीचे पहुंच गया.

न्याय व्यवस्था पर न्यायाधीशों ने पहली बार किया प्रेस कॉन्फ्रेंस
इससे पहले सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस जे. चेलमेश्वर ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट प्रशासन सही तरीके से नहीं चल रहा है. हम चीफ जस्टिस को समझाने में नाकाम रहे हैं. कुछ चीजें नियंत्रण के बाहर हो गई हैं. इसके चलते हमारे पास मीडिया में बात करने के अलावा कोई रास्ता नहीं बचा. हम अपनी चिंताओं को सामने लाना चाहते हैं.

आपके पास भी हैं दादा जी के खरीदे शेयर तो ऐसे करें ट्रांसफर!



उन्होंने कहा कि किसी भी देश के लोकतंत्र के लिए जजों की स्वतंत्रता भी जरूरी है. अगर ऐसा नहीं होता है तो लोकतंत्र नहीं बच पाएगा. वहीं चीफ जस्टिस पर महाभियोग लगाए जाने को लेकर जस्टिस चेलमेश्वर ने कहा कि इसका फैसला देश को करने दें. हम नहीं चाहते कि न्यायपालिका की निष्ठा और हम पर कोई सवाल उठे.

ये भी पढ़ें:

PAN कार्ड बनवाते वक़्त न करें ये गलतियां

आपके PF का पैसा ऐसे हो जाएगा दोगुना!
News18 Hindi पर Jharkhand Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Business News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर