• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • भारत के इस कदम से पाकिस्तान को होगा करोड़ों का नुकसान, SAFTA से होगा बाहर

भारत के इस कदम से पाकिस्तान को होगा करोड़ों का नुकसान, SAFTA से होगा बाहर

पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान

पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान

सॉफ्टा भारत, अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश, भूटान, नेपाल, मालदीव और श्रीलंका का एक संगठन है.

  • Share this:
    पुलवामा अटैक के चलते मोस्ट फेवर्ड नेशन (MFN) का दर्जा छीनने और निर्यात किए जाने वाले सामानों पर बेसिक कस्टम ड्यूटी 200 फीसदी तक बढ़ाने के बाद भारत सरकार एक बार फिर पाकिस्‍तान को आर्थिक नुकसान पहुंचाने की तैयारी कर रही है. सूत्रों के मुताबिक, भारत अपनी नई रणनीति के तहत पाकिस्‍तान को साउथ एशिन फ्री ट्रेड एरिया (साफ्टा) से भी बाहर करने पर विचार कर रहा है.

    सॉफ्टा भारत, अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश, भूटान, नेपाल, मालदीव और श्रीलंका का एक संगठन है. सॉफ्टा को साल 2004 में गठित किया गया था और यह 2006 से प्रभावी हुआ था. सॉफ्टा के तहत इस संगठन में शामिल देशों के बीच मुक्‍त व्‍यापार की परिकल्‍पना की गई है.

    इसके पहले चरण में दो साल के भीतर दक्षिण एशिया के विकासशील देशों भारत, श्रीलंका और पाकिस्तान को अपनी कस्टम ड्यूटी घटाकर 20 फीसदी तक करना था और इसके बाद अगले पांच साल में इसे शून्य करना था. इनके अलावा कम विकसित देश नेपाल, भूटान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान और मालदीव को इसे शून्‍य करने के लिए अतिरिक्‍त तीन साल का समय दिया गया था.

    इसे भी पढ़ें :- पहले से कंगाल पाकिस्तान से छिना MFN का दर्जा, क्या होगा इसका असर?

    गौरतलब है कि पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए 'मोस्ट फेवर्ड नेशन' का दर्जा वापस ले लिया है. पाकिस्तान से MFN स्टेटस वापस लेने के बाद उसे खरबों का झटका लगा है. साल 2012 के एक आंकड़े के अनुसार भारत और पाकिस्तान के बीच 2.60 बिलियन डॉलर ( 1 खरब से ज्यादा ) का व्यापार होता है. ऐसे में व्यापारिक मायनों में पाक को इसका बड़ा नुकसान हो रहा है.

    किन चीजों का होता है व्यापार?
    भारत और पाकिस्तान के बीच चीनी, कपास, सब्जी, फल, ड्राई फ्रूट, स्टील और सीमेंट सरीखों चीजों का व्यापार होता है. वहीं पाकिस्तान की 1,209 उत्पादों की नकारात्मक सूची है, जिनका आयात भारत से नहीं किया जा सकता.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज