आम आदमी की बढ़ी मुश्किलें आलू का दाम हुआ दोगुना, आसमान छू रही हैं सब्जियों की कीमत

आम आदमी की बढ़ी मुश्किलें आलू का दाम हुआ दोगुना, आसमान छू रही हैं सब्जियों की कीमत
आम आदमी की बढ़ी मुश्किलें आलू का दाम हुआ दोगुना, आसमान छू रही हैं सब्जियों कीमत

सब्जियों (Vegetable Prices) के दाम आसमान छू रहे हैं और आम आदमी की पहुंच से बहार होते जा रहे है. इसके साथ ही सब्जियों की महंगाई से राहत मिलने के आसार नहीं नजर आ रहे हैं. सब्जियों में सबसे ज्यादा खपत होने वाले आलू के दाम बीते दो महीने में दोगुने (Potato Prices get Doubled) हो गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 14, 2020, 4:46 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना की वजह से परेशान जनता अब महंगाई की भी मार पड़ रही है. खासतौर रोज की जरूरी चीजों में शामिल सब्जियां. सब्जियों (Vegetable Prices) के दाम आसमान छू रहे हैं और आम आदमी की पहुंच से बहार होते जा रहे है. इसके साथ ही सब्जियों की महंगाई से राहत मिलने के आसार नहीं नजर आ रहे हैं. सब्जियों में सबसे ज्यादा खपत होने वाले आलू के दाम बीते दो महीने में दोगुने (Potato Prices get Doubled) हो गए हैं.

होटलों में सब्जियों की खपत कम होने के बावजूद कीमत बढ़ रही
कोरोना काल में होटल, रेस्तरां, कैंटीन और ढाबों में सब्जियों की खपत कम होने के बावजूद इनकी कीमतों में लगातार इजाफा हो रहा है. कारोबारी बताते हैं कि बरसात में हरी सब्जियों का उत्पादन कम हो जाने की वजह से आवक कम हो रही है, जबकि आलू के साथ यह बात लागू नहीं होती, क्योंकि इसकी ज्यादातर आवक इस समय कोल्ड स्टोरेज से हो रही है.

इस बार आलू का उत्पादन बढ़ा
साथ ही, सरकारी आंकड़े बताते हैं कि फसल वर्ष 2019-20 में आलू का उत्पादन बीते वर्ष से ज्यादा हुआ है. देश में आलू का उत्पादन ज्यादातर रबी सीजन में होता है, लेकिन कुछ इलाकों में खरीफ जायद सीजन में आलू की पैदावार होती है. इसलिए कोल्ड स्टोरेज के अलावा ताजा आलू की आवक बाजार में सालभर बनी रहती है. केंद्रीय कृषि मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, वर्ष 2019-20 के दौरान देश में आलू का उत्पादन 513 लाख टन हुआ, जबकि एक साल पहले वर्ष 2018-19 में देश में 501.90 लाख टन आलू का उत्पादन हुआ था.



आजादपुर मंडी में आलू का भाव
गुरुवार को आलू का थोक भाव 44 रुपये प्रति किलो था जो दो महीने पहले 13 जून को आठ रुपये से 21 रुपये प्रति किलो था. इस तरह महज दो महीने में आलू का अधिकतम थोक भाव दोगुना से भी ज्यादा हो गया है और निचला भाव भी डेढ़गुना बढ़ गया है. आलू का खुदरा दाम भी दोगुना हो गया है.

दिल्ली-एनसीआर में आलू का भाव ये रहा
दिल्ली-एनसीआर के बाजारों में आलू का खुदरा भाव जून में जहां 20 से 25 रुपये प्रति किलो था, वहीं शुक्रवार को आलू 40 से 50 रुपये प्रति किलो बिक रहा था. यही नहीं, थोक मंडी में जो आलू 44 रुपये प्रति किलो था, उसका खुदरा भाव 60 रुपये प्रति किलो से भी ऊपर बताया जा रहा है.

क्या हैं सब्जियों के दाम?
दिल्ली-एनसीआर में सब्जियों के मौजूदा खुदरा भाव (रुपये प्रतिकिलो) आलू 40-50, फूलगोभी-120, बंदगोभी-40, टमाटर 60-70, प्याज 25-30, लौकी/घीया-30, भिंडी-30, खीरा-30, कद्दू-30, बैंगन-40, शिमला मिर्च-80 तोरई-30, करेला-40, परवल 60-70, लोबिया-40, अरबी-40,अदरख-200, गाजर-40, मूली-70, चुकंदर-40. जून में सब्जियों के खुदरा दाम (रुपये प्रति किलो) आलू 20-25, गोभी 30-40, टमाटर 20-30, प्याज 20-25, लौकी/घीया-20, भिंडी-20, खीरा-20, कद्दू 10-15, बैंगन-20, शिमला मिर्च-60, तोरई-20, करेला 15-20.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading