लाइव टीवी

AGR मामला: टेलीकॉम कंपनियों को भुगतान के लिए फरवरी अंत तक मिल सकता है समय

News18Hindi
Updated: February 19, 2020, 3:42 PM IST
AGR मामला: टेलीकॉम कंपनियों को भुगतान के लिए फरवरी अंत तक मिल सकता है समय
AGR बकाए पर टेलीकॉम कंपनियों को राहत संभव,

AGR: सूत्रों के मुताबिक टेलीकॉम कंपनियां ने जो सेल्फ एससेमेंट सौंपी है वो दूरसंचार विभाग की मांग से मेल नहीं हो पा रही है. ऐसे में विभाग को पूरी प्रकिया निपटाने के लिए 10-15 दिन का वक्त चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 19, 2020, 3:42 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दूरसंचार विभाग (Telecom Department) टेलीकॉम कंपनियों के फरवरी अंत तक बाकी का भुगतान करने के डेडलाइन दे सकता है. सूत्रों के मुताबिक टेलीकॉम कंपनियां ने जो सेल्फ एससेमेंट सौंपी है वो दूरसंचार विभाग की मांग से मेल नहीं हो पा रही है. ऐसे में विभाग को पूरी प्रकिया निपटाने के लिए 10-15 दिन का वक्त चाहिए. सूत्रों के मुताबिक टेलीकॉम कंपनियों को फरवरी अंत तक AGR बकाए की रकम का भुगतान करना होगा. कंपनियों के एससेमेंट का DoT की मांग से मिलान नहीं हुआ है. Tata Tele ने अभी 2,197 करोड़ रुपये का भुगतान किया है. Tata Tele के मुताबिक अब उसकी कोई देनदारी नहीं बनती है.

बता दें कि DoT के मुताबिक Tata Tele की 14,382 करोड़ रुपये की देनदारी बनती है. सरकार Tata Tele के दावे की जांच कर रहा है. सरकार Tata Tele को दोबारा नोटिस भेजेगी. इस पूरी प्रकिया में 10-15 दिन का वक्त लगेगा. बाकी कंपनियों के सेल्फ एससेमेंट के मिलान में वक्त लगेगा. वहीं वोडाफोन (Vodafone) का दावा उसकी देनदारी मात्र 7,000 करोड़ रुपये बनती है. ऐसे में कंपनियों के साथ कार्रवाई करने के लिए वक्त चाहिए. सुप्रीम कोर्ट ने 17 मार्च तक आदेश का अनुपालन मांगा है.

ये भी पढ़ें: 1 अप्रैल से भारत में बिकेगा दुनिया का सबसे साफ पेट्रोल और डीज़ल, जानिए इसके बारे में...





सुप्रीम कोर्ट ने ठुकराया था वोडा का अनुरोध
सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को वोडाफोन आइडिया का यह अनुरोध ठुकरा दिया था कि वह दूरसंचार विभाग को यह निर्देश दे कि वह AGR से जुड़ा बकाया वसूलने के लिए कंपनी की बैंक गारंटी न भुनाए. कंपनी के वकील मुकुल रोहतगी ने आगाह किया था कि अगर बैंक गारंटी भुना ली गई तो कंपनी को कारोबार बंद करना पड़ जाएगा. वोडाफोन आइडिया ने सोमवार को बकाया रकम में से 2500 करोड़ रुपए टेलिकॉम विभाग को चुका दिया.

ये भी पढ़ें-पेट्रोल-डीजल की तर्ज पर देश भर में लगेंगे LNG पंप, कमाई का बनेगा नया जरिया

Airtel ने ₹10 हजार करोड़ चुकाया
भारती एयरटेल (Bharti Airtel) ने सोमवार को दूरसंचार विभाग को एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (AGR) के 10,000 करोड़ रुपये बकाये का भुगतान किया है. Airtel ने कहा, बाकी बचे पैसे कुछ दिनों में चुका दिए जाएंगे.

ये भी पढ़ें-सरकारी कर्मचारियों को मिला तोहफा, सरकार ने पेंशन स्कीम को लेकर किया ये ऐलान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 19, 2020, 3:42 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर