लाइव टीवी

वोडाफोन आइडिया ने टेलिकॉम विभाग को चुकाया ₹2500 करोड़, अभी भी है इतना बकाया

News18Hindi
Updated: February 17, 2020, 7:46 PM IST
वोडाफोन आइडिया ने टेलिकॉम विभाग को चुकाया ₹2500 करोड़, अभी भी है इतना बकाया
वोडाफो आइडिया ने एजीआर बकाये का कुछ हिस्सा चुकाया

एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (AGR) में सोमवार को वोडाफोन आइडिया और एयरटेल ने बकाये रकम का कुछ हिस्सा टेलिकॉम विभाग को जमा कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 17, 2020, 7:46 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (Adjusted Gross Revenue) मामले में वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) ने सोमवार को बकाया रकम में से 2500 करोड़ रुपए टेलिकॉम विभाग को चुका दिया. AGR पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से वोडाफोन आइडिया को तगड़ा झटका लगा है. लाइव मिंट के मुताबिक, इस मामले की जानकारी रखने वाले एक शख्स ने बताया, " कंपनी ने सोमवार को 2500 करोड़ रुपए चुका दिए. और 1000 करोड़ रुपए शुक्रवार तक देगी. कंपनी अपनी मंशा साफ करने के लिए सोमवार को सुप्रीम कोर्ट गई. कंपनी ने कोर्ट को कहा कि वह पेमेंट करेगी और उसके खिलाफ कोई कार्रवाई ना हो."

कितना है बकाया?
वोडाफोन आइडिया पर कुल 50,000 करोड़ रुपए बकाया है. अक्टूबर के अपने एक फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने 23 जनवरी तक कंपनियों को बकाया AGR चुकाने को कहा था. सोमवार सुबह भारती एयरटेल ने भी 10,000 करोड़ रुपए जुटाए हैं. साथ ही बाकी रकम 17 मार्च तक चुकाने का वादा किया है.





यह भी पढ़ें: कर्ज में डूबी Air India दे रही बस 799 रुपये में हवाई सफर का मौका, जानें ऑफर

सुप्रीम कोर्ट ने लगाई थी फटकार
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को भारती एयरटेल, वोडाफोन आइडिया के साथ-साथ दूरसंचार विभाग के अधिकारियों को भी बकाया पेमेंट पर फटकार लगाई थी. दूरसंचार विभाग और टेलीकॉम कंपनियों के बीत 14 साल तक चले मुकदमे के बाद सुप्रीम कोर्ट ने टेलीकॉम कंपनियों के खिलाफ फैसला सुनाया है. दुरसंचार विभाग के कैलकुलेशन के मुताबिक, भारती एयरटेल को 35,586 करोड़ रुपए चुकाना है.

यह भी पढ़ें: AGR मामला: Airtel ने दूरसंचार विभाग को ₹10 हजार करोड़ का एजीआर बकाया चुकाया


 एयरटेल ने भी चुकाया 10 हजार करोड़ रुपये
भारती एयरटेल (Bharti Airtel) ने भी सोमवार को टेलिकॉम विभाग को एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (AGR) के 10,000 करोड़ रुपये बकाये का भुगतान कर दिया है. Airtel ने कहा, बाकी बचे पैसे कुछ दिनों में चुका दिए जाएंगे. अब कंपनी पर 25,000 करोड़ रुपये का बकाया रह गया है. एयरटेल को एजीआर के मद में 35,000 करोड़ रुपये का भुगतान करना है. कंपनी के मुताबिक, भारती एयरटेल, भारती हेक्साकॉम और टेलीनॉर की ओर से कुल 10,000 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया है.

यह भी पढ़ें: SBI में है खाता तो 10 दिन में निपटा लें ये काम, वरना नहीं निकाल पाएंगे पैसे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 17, 2020, 7:46 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर