लाइव टीवी

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर किस टेलिकॉम कंपनी को चुकाने हैं कितने हजार करोड़ रुपये, यहां जानिए

News18Hindi
Updated: February 15, 2020, 10:06 AM IST
सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर किस टेलिकॉम कंपनी को चुकाने हैं कितने हजार करोड़ रुपये, यहां जानिए
टेलिकॉम कंपनियों पर 1 लाख करोड़ रुपये से अधिक का बकाया

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) द्वारा एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (Adjusted Gross Revenue) बकाया भुगतान को लेकर फटकार लगाने के बाद भारती एयरटेल (Bharti Airtel) ने देर शाम को जानकारी दी है कि बकाये का कुछ हिस्सा 20 फरवरी तक जमा कर देगी. आइए जानें कौन सी टेलीकॉम कंपनी को कितने हजार करोड़ रुपये चुकाने हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 15, 2020, 10:06 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. टेलिकॉम विभाग (Department of Telecom) के भुगतान को लेकर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) सख्त है. कोर्ट ने बकाया भुगतान के लिए टेलिकॉम कंपनियों (Telecom Companies) को चंद घंटे की मोहलत दी है. आईडिया (Idea), वोडाफोन और भारती एयरटेल सहित 16 कंपनियों को एजीआर के तहत करीब एक लाख करोड़ रुपये टेलिकॉम विभाग को चुकाने हैं. कोर्ट के इस आदेश के बाद टेलिकॉम विभाग ने भुगतान को लेकर टेलिकॉम कंपनियों को नोटिस भेजना शुरू कर दिया है.

आपको बता दें कि टेलिकॉम कंपनियों को रेवेन्यू का कुछ हिस्सा सरकार को स्पेक्ट्रम फीस जिसे स्पेक्ट्रम यूजेज चार्ज और लाइसेंस फीस के रूप में जमा करना होता है. टेलिकॉम कंपनियों का डिपार्टमेंट ऑफ टेलिकम्युनिकेशन्स से लाइसेंस अग्रीमेंट होता है. अग्रीमेंट में ही एजीआर से जुड़े कंडीशन्स होते हैं.

Airtel

कितना है कंपनियों पर कुल बकाया



इसी महीने पेश हुएबजट सत्र के दौरान केंद्र सरकार ने संसद में जानकारी दी है कि टेलिकॉम विभाग के प्रति इन कंपनियों का करीब 1.63 लाख करोड़ रुपये बकाया है. इसमें कंपनियों का लाइसेंस फीस और स्पेक्ट्रम यूसेज चार्ज शामिल है. लाइसेंस के तौर पर बकाया रकम 92,642 करोड़ रुपये और स्पेक्ट्रम यूसेज चार्ज के तौर पर 70,869 करोड़ रुपये बकाया है. सबसे अधिक बकाया भारती एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया का है.

ये भी पढ़ें-एयरटेल, वोडा-idea को फरमान- रात 11.59 बजे तक बकाये का करो भुगतान



लाइसेंस और स्पेक्ट्रम यूसेज चार्ज की रकम
आइडिया सेल्यूलर लिमिटेड 8485-6501
वोडाफोन ग्रुप ऑफ कंपनी 19824-
भारती एयरटेल ग्रुप ऑफ कंपनी 21682-18041
टेलिनॉर प्राइवेट इंडिया लिमिटेड 1950-708
टाटा ग्रुप ऑफ कंपनी 9987-4832
भारत संचार निगम लिमिटेड 2099-5408
महानगर टेलीफोन नगर निगम लिमिटेड 2537-673
एयरसेल ग्रुप ऑफ कंपनी 7853-2720
एटिसलाट डीबी टेलीकॉम प्राइवेट लिमिटेड 29-
क्वाडरेंट टेलीवेंचर लिमिटेड 116-57
एसटेल प्राइवेट लिमिटेड 42-30
वोडाफोन टेलीकम्यूनिकेशन लिमिटेड 1033-
सिस्टेमा श्याम टेलीसर्विसेज लिमिटेड 302-165
लूप टेलीकॉम प्राइवेट लिमिटेड 233-520

 

ये भी पढ़ें-अगर गुम या फिर चोरी हो जाए एटीएम कार्ड तो सबसे पहले क्या करें!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 15, 2020, 10:02 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर