जर्मन एयरलाइन लुफ्थांसा फिर से शुरू करेगी हवाई उड़ान ! कई नए देश भी होंगे शामिल

जर्मन एयरलाइन लुफ्थांसा (Image: Lufthansa)
जर्मन एयरलाइन लुफ्थांसा (Image: Lufthansa)

हाल में जर्मनी ने एयर बब्बल (Air Bubble) व्यवस्था को बंद कर दिया था, जिसके बाद भारत से जर्मनी जाने वाले यात्रियों को निराशा हुई. अब नागरिक उड्डयन मंत्रालय फिर से जर्मन एयरलाइन लुफ्थांसा (Lufthansa) से बातचीत कर रही है ताकि एयर बब्बल व्यवस्था को फिर से बहाल किया जा सके.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 8, 2020, 4:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना काल में दुनिया के विभिन्न देशों में फंसे भारतीयों की वतन वापसी और भारत में फंसे भारतीयों को उनके मुल्क पहुंचाने के लिए नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने 'वंदे भारत मिशन' (Vande Bharat Mission) के तहत इंटरनेशनल फ्लाइट्स (International Flights) का परिचालन शुरू किया. दुनिया के कुछ देशों के साथ एयर बब्बल (Air Bubble) व्यवस्था किया गया ताकि दोनों देशों के साथ हवाई सेवा बहाल हो सके. हाल में जर्मनी ने एयर बब्बल व्यवस्था को बंद कर दिया था, जिसके बाद भारत से जर्मनी जाने वाले यात्रियों को निराशा हुई. अब नागरिक उड्डयन मंत्रालय फिर से लुफ्थांसा (Lufthansa) से बातचीत कर रही है ताकि एयर बब्बल व्यवस्था को फिर से बहाल किया जा सके.

अब तक 16 देशों के साथ भारत ने एयर बब्बल यातायात व्यवस्था की है
कोरोना काल में मुसाफ़िरों की आवाजाही सुगम बनाने के लिए भारत सरकार ने 16 देशों के साथ एयर बब्बल समझौता किया. अभी तक अमेरिका, कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, यूके, मालदीव, यूएई, कतर, अफगानिस्तान, बहरीन, जापान, नाइजीरिया, केन्या, इराक, भूटान और ओमान के साथ भारत सरकार ने समझौता किया है. बहुत जल्द बांग्लादेश, कजाखिस्तान, यूक्रैन सहित कई अन्य देशों के साथ भी एयर बब्बल व्यवस्था के लिए करार होगा.

वंदे भारत मिशन के तहत करीब 9 लाख यात्रियों ने किया हवाई सफर
कोरोना काल में विशेष व्यवस्था के तहत इंटरनेशनल यात्रियों को उनके मंजिल तक पहुंचाया जा रहा है. अभी तक वंदे भारत मिशन के तहत 3510 फ्लाइट्स से 5,91,098 लोगों की वतन वापसी हुई है जबकि 3516 फ्लाइट्स से भारत से 2,97,536 यात्रियों ने दुनिया के विभिन्न देशों के लिए यात्रा की. एयर इंडिया और एयर इंडिया एक्सप्रेस ने 5,31,697 यात्रियों को ईवेकुएट किया. सबसे अधिक चार्टर्ड प्लेन से 10,12,115 यात्रियों को मंजिल तक पहुंचाया गया. अक्टूबर से शुरू हुए वंदे भारत मिशन के तहत 5 अक्टूबर तक 1,02,647 यात्री सफर कर चुके हैं.



वंदे भारत मिशन के तहत सबसे अधिक संयुक्त अरब अमीरात से यात्रियों ने हवाई सफर किया
विदेशों में फंसे भारतीयों की वापसी के लिए शुरू किया गया इस मिशन के तहत लाखों यात्रियों की वतन वापसी हुई है. सबसे अधिक संयुक्त अरब अमीरात से 5,27,404 यात्रियों ने सफर किया. उसके बाद सऊदी अरब से 1,90,024, कतर से 1,13,503, कुवैत से 1,01,726, ओमान से 96,291, अमेरिका से 87,755, यूके से 46,767, सिंगापुर से 30,337, बहरीन से 28,067, जर्मनी से 25,516, फ्रांस से 19,679 और कनाडा से 15,488 यात्रियों की वतन वापसी हुई.

सबसे अधिक केरल के निवासियों की वतन वापसी हुई
वंदे भारत मिशन के तहत सबसे अधिक केरल के 4,17,213 यात्रियों ने वतन वापसी की. इसके बाद दिल्ली के 2,73,938, उत्तर प्रदेश के 1,31,873, तमिलनाडु के 1,27,311, महाराष्ट्र के 1,13,950, तेलंगाना के 79,692, कर्नाटक के 71,532, आंध्र प्रदेश के 36,561, राजस्थान के 35,594, बिहार के 34,457, पंजाब के 34,057 और गुजरात के 26,509 यात्रियों की भारत वापसी हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज