लाइव टीवी

एयरलाइंस कंपनी Air India पर क्यों बढ़ रहा है कर्ज़, सरकार ने संसद में दी जानकारी

News18Hindi
Updated: February 6, 2020, 4:03 PM IST
एयरलाइंस कंपनी Air India पर क्यों बढ़ रहा है कर्ज़, सरकार ने संसद में दी जानकारी
एयर इंडिया पर कुल 58,255 करोड़ रुपये का कर्ज़ है.

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने एक सवाल के जवाब में राज्यसभा को बताया कि एयर इंडिया (Air India) पर कुल 58,255 करोड़ का कर्ज़ है. साल 2016-17 में 48,447 करोड़ रुपये का कर्ज था, जो 2017-18 में बढ़कर 55,308 करोड़ रुपये और 2018-19 में 58,255 करोड़ रुपये हो गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 6, 2020, 4:03 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने संसद में देश की सरकारी एयरलाइंस कंपनी एयर इंडिया (Air India) पर बढ़ते कर्ज़ की जानकारी दी. पुरी ने राज्यसभा में बताया कि एयर इंडिया पर लगातार बढ़ते कर्ज की प्रमुख वजहों में सस्ती विमानन सेवा की बढ़ती प्रतिस्पर्धा के अलावा ऊंची ब्याज दर का बोझ और परिचालन खर्च में इजाफा शामिल है. एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, एयर इंडिया पर कुल 58,255 करोड़ का कर्ज़ है. मौजूदा समय में एयर इंडिया विनिवेश की प्रक्रिया से गुजर रही है. साल 2016-17 में 48,447 करोड़ रुपये का कर्ज था, जो 2017-18 में बढ़कर 55,308 करोड़ रुपये और 2018-19 में 58,255 करोड़ रुपये हो गया.

सरकार एयर इंडिया की 100% हिस्सेदारी बेच रही है. पिछले साल 76% शेयर बेचने के लिए बोलियां मंगवाई थीं, लेकिन कोई खरीदार नहीं मिला. इसके बाद ट्रांजेक्शन एडवाइजर ईवाय ने बोली प्रक्रिया विफल रहने के कारणों पर रिपोर्ट तैयार की थी. रिपोर्ट के आधार पर इस बार शर्तों में बदलाव किया गया है.

ये भी पढ़ें-किसान घर बैठे उठा सकते हैं सरकार की इस स्कीम का फायदा, मिलते हैं 3.75 लाख रु

केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी.


ये भी पढ़ें-Delhi Election: वोट डालने के लिए स्पाइसजेट देगी फ्री टिकट, आज है अंतिम मौका


क्यों बढ़ रहा है Air India पर  कर्ज़- पुरी ने बताया कि कर्ज में बढ़ोतरी की मुख्य वजह ऊंची ब्याज दर, सस्ती विमानन सेवा के कारण बढ़ी प्रतिस्पर्धा, रुपये में गिरावट के कारण मुद्रा विनिमय पर प्रतिकूल प्रभाव सहित विभिन्न कारणों से होने वाला नुकसान है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 6, 2020, 9:48 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर