होम /न्यूज /व्यवसाय /आकाश अंबानी बने रिलायंस जियो इंफोकॉम लिमिटेड के नए चेयरमैन, कंपनी बोर्ड ने दी नियुक्ति को मंजूरी

आकाश अंबानी बने रिलायंस जियो इंफोकॉम लिमिटेड के नए चेयरमैन, कंपनी बोर्ड ने दी नियुक्ति को मंजूरी

आकाश अंबानी अब तक जियो इंफोकॉम के बोर्ड में नॉन एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर थे.

आकाश अंबानी अब तक जियो इंफोकॉम के बोर्ड में नॉन एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर थे.

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी (CMD Mukesh Ambani) के बेटे आकाश अंबानी अब जियो इंफोकॉम लिम ...अधिक पढ़ें

    मुंबई. रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (RIL) के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी (CMD Mukesh Ambani) ने जियो इंफोकॉम के डायरेक्टर पद से इस्तीफा दे दिया है. अब उनके बेटे आकाश अंबानी (Akash Ambani) को जियो इंफोकॉम (Jio Infocomm) का नया चेयरमैन बनाया गया है. कंपनी बोर्ड ने आकाश अंबानी की नियुक्ति को मंजूरी दे दी है. बता दें कि जियो इंफोकॉम मुख्य कंपनी जियो प्लेटफॉर्म (Jio Platforms) की सब्सिडरी कंपनी है.

    बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की 27 जून 2022 को हुई बैठक में आकाश अंबानी के नाम पर मोहर लगाई गई. इससे पहले आकाश अंबानी बोर्ड में नॉन एग्जिक्‍यूटिव डायरेक्टर के पद पर कार्यरत थे. स्टॉक एक्सचेंज में कंपनी की तरफ से मंगलवार को दी गई जानकारी में यह बात सामने आई.

    नई पीढ़ी को सौंपा जा रहा है नेतृत्व 
    ब्राउन यूनिवर्सिटी से अर्थशास्त्र में स्‍नातक आकाश अंबानी से पहले उनके पिता मुकेश अंबानी कंपनी के चेयरमैन के नाते काम देख रहे थे. मुकेश अंबानी का जियो इंफोकॉम के चेयरमैन पद से इस्तीफा भी कंपनी बोर्ड ने स्वीकार कर लिया है. इस नियुक्ति को नई पीढ़ी को नेतृत्व सौंपने के तौर पर देखा जा रहा है. मुकेश अंबानी जियो प्लेटफॉर्म्स लिमिटेड के चेयरमैन बने रहेंगे.

    4जी इको सिस्टम का श्रेय आकाश को
    जियो के 4जी इको सिस्टम को खड़ा करने का श्रेय आकाश अंबानी को ही दिया जाता है. साल 2020 में दुनिया भर की बड़ी टेक कंपनियों ने जियो में निवेश किया था. वैश्विक निवेश को भारत लाने में भी आकाश अंबानी ने कड़ी मेहनत की थी.

    एक और बड़ा बदलाव करते हुए रिलायंस जियो इंफोकॉम लिमिटेड ने पंकज पवार को अगले 5 वर्ष के लिए कंपनी का मैनेजिंग डायरेक्टर नियुक्त किया है. एडिशनल डायरेक्टर रामिंदर सिंह गुजराल और केवी चौधरी अब स्वतंत्र निदेशक के तौर पर काम देखेंगे. उनकी नियुक्ति भी 5 साल के लिए प्रभावी होगी. शेयरधारकों की मंजूरी के बाद ही यह नियुक्तियां मान्य होंगी.

    (डिस्क्लेमर : नेटवर्क18 और टीवी18 कंपनियां चैनल/वेबसाइट का संचालन करती हैं, जिनका नियंत्रण इंडिपेंडेट मीडिया ट्रस्ट करता है, जिसमें रिलायंस इंडस्ट्रीज एकमात्र लाभार्थी है.)

    Tags: Mukesh ambani, Reliance Jio, RIL

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें