Home /News /business /

डोनाल्ड ट्रंप से मिलना Alibaba के फाउंडर को पड़ा भारी, जानिए Jack Ma के पतन की कहानी

डोनाल्ड ट्रंप से मिलना Alibaba के फाउंडर को पड़ा भारी, जानिए Jack Ma के पतन की कहानी

जैक मा

जैक मा

चीन के सबसे सफल और प्रभावशाली कारोबारियों में से एक जैक मा ने लाखों अमेरिकियों के लिए नौकरियां उपलब्ध कराने का वादा किया था जो चीनी सरकार को नागवार गुजरा. इसके बाद अलीबाबा ग्रुप का बुरा दौर शुरू हो गया.

    नई दिल्ली. चीनी अरबपति और ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा (Alibaba) के फाउंडर जैक मा (Jack Ma) साल 2017 में तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के साथ मुलाकात करना उनके लिए टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ. उस मुलाकात के बाद से चीन के सरकार के साथ उनके संबंधों में खटास आनी शुरू हो गई. दरअसल, जैक मा ने लाखों अमेरिकियों के लिए नौकरियां उपलब्ध कराने का वादा किया था जो चीनी सरकार को नागवार गुजरा.

    उस हाई-प्रोफाइल बैठक के बाद पत्रकारों के साथ एक अनौपचारिक टेलीविजन इंटरव्यू में पहली बार बाकी दुनिया के लोगों को नौकरियां देने की बात कही थी. अलीबाबा के करीब 4 सूत्रों और बीजिंग सरकार के एक सूत्र ने ये जानकारी दी.

    मुलाकात को लेकर बीजिंग नाखुश था
    अलीबाबा की गवर्नमेंट रिलेशन टीम को बाद में चीनी अधिकारियों ने बताया था कि बीजिंग की बिना पूर्व अनुमति के इस मुलाकात को लेकर बीजिंग नाखुश था. हालांकि इस बारे में जैक मा के मीडिया संबंधी कामों को हैंडल करने वाले चैरिटेबेल फाउंडेशन से संपर्क करने पर उन्होंने कोई टिप्पणी नहीं की है. द स्टेट काउंसिल ऑफ इन्फॉर्मेशन ऑफिस और विदेश मामले मंत्रालय ने इस बारे में टिप्पणी करने करने से इनकार कर दिया.

    अमेरिका और चीन के बीच तनावपूर्ण माहौल के समय में हुई थी मुलाकात
    रायटर्स के मुताबिक, 9 जनवरी, 2017 को यह बैठक अमेरिका और चीन के बीच तनावपूर्ण माहौल के समय में हुई थी. अलीबाबा के सूत्रों ने कहा कि यह बैठक जैकमा और बीजिंग के बीच संबंधों में एक नकारात्मक मोड़ थी. हालांकि ट्रंप की मुलाकात के बाद भी जैक मा का दुनिया भर के लोगों से मिलना-जुलना बंद नहीं हुआ था.

    लिस्टिंग को लेकर शी के करीबी लोगों से जैक मा ने किया था अनुरोध 
    चीन के सबसे सफल और प्रभावशाली कारोबारियों में से एक के लिए जीवन कैसे बदल गया है, इसका उदाहरण ये है कि Ant Group की लिस्टिंग पर रोक को लेकर शी के अत्यंत करीबी 2 लोगों से जैक मा ने अनुरोध किया था लेकिन दोनों ने उनके अनुरोध ठुकरा दिया. अलग-अलग सूत्रों ने ये जानकारी दी. इसके बाद इस चीनी अरबपति ने इस साल की शुरुआत में सीधे शी को पत्र लिखकर अपना शेष जीवन चीन की ग्रामीण शिक्षा के लिए समर्पित करने की पेशकश की. एक सरकारी सूत्र के अनुसार राष्ट्रपति ने मई में देश के वरिष्ठ नेताओं की एक बैठक में इस पत्र के बारे में बताया था.

    ये भी पढ़ें- ₹25,000 लगाकर शुरू करें यह कारोबार, हर महीने 3 लाख रुपये की होगी कमाई, सरकार देगी 50% सब्सिडी

    अलीबाबा के सह-संस्थापक Tsai ने जून में सीएनबीसी के Squawk Box शो में इस अरबपति के बारे में दिये गये एक विशेष साक्षात्कार में अपने लंबे समय के सहयोगी के प्रभाव को कम करके बताया था. उन्होंने कहा कि वह अभी नजरों से परे है. मैं उससे हर दिन बात करता हूं. Tsai ने कहा कि यह कहना सही नहीं है कि उसके पास बहुत ताकत है. बल्कि वह बिल्कुल आपकी और मेरी तरह है, एक सामान्य व्यक्ति है.

    Tags: Alibaba Founder Jack Ma, Donald Trump, Jack ma

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर