लोकसभा में पास हुए तीनों कृषि विधेयक, जानिए इसकी 5 खास बातें

लोकसभा में तीनों कृषि बिल को पास कर दिया गया है.
लोकसभा में तीनों कृषि बिल को पास कर दिया गया है.

Agriculure Bills: केंद्रीय कृषि मंत्री ​नरेंद्र सिंह तोमर ने बीते गुरुवार को लोकसभा में इस बिल को पेश किया था. प्राइवेट सेक्टर इन्वेस्टमेंट की मदद से एग्रीकल्चर इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार करने में मदद मिलेगी और भारतीय फसलों के लिए सप्लाई चेन बेहतर हो सकेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 18, 2020, 9:08 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. विरोध के बीच कृषि क्षेत्र से जुड़े 3 बिल - कृषि उत्पाद व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) अध्यादेश, 2020 और किसान (संरक्षण एवं सशक्तिकरण) समझौता और कृषि सेवा अध्यादेश को लोकसभा में पास कर दिया गया है. आवश्यक वस्तु अधिनियम (संशोधन) 2020 को पहले ही पास कर दिया गया था. अब इन तीनों बिलों को राज्य सभा में पेश किया जाएगा और वहां से पास होने के बाद ये कानून में तब्दील हो जाएंगे.

केंद्रीय कृषि मंत्री ​नरेंद्र सिंह तोमर ने बीते गुरुवार को लोकसभा में इस बिल को पेश किया था. इस दौरान उन्होंने सभी सदस्यों को आश्वस्त किया कि इससे किसानों को बेहतर दाम में अपनी फसलें बेचने में मदद मिलेगी. उन्होंने यह भी कहा कि न्यूनतम समर्थन मूल्य पर सरकारी खरीद का सिस्टम भी जारी रहेगा.

यह भी पढ़ें: कृषि बिल पर विरोध के बीच प्रधानमंत्री बोले- बिचौलियों का साथ दे रहे हैं कुछ लोग, किसान इनसे रहे सतर्क




आइए जानते हैं लोकसभा में पास हो चुके इस बिल की खास बातें...

1. सरकार के मुताबिक, इस रिफॉर्म से कृषि क्षेत्र में ग्रोथ को रफ्तार मिल सकेगी. प्राइवेट सेक्टर इन्वेस्टमेंट की मदद से एग्रीकल्चर इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार करने में मदद मिलेगी और भारतीय फसलों के लिए सप्लाई चेन बेहतर हो सकेगी. इससे देश में उपजी फसलों को राष्ट्रीय और वैश्विक बाजार तक पहुंचाने में मदद मिलेगी.

2. इन बिल का एक लक्ष्य यह भी है कि रोजगार के मौके मिलें और अर्थव्यवस्था को मजबूती मिल सके.

3. कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा है कि ये बिल्स राज्यों के एग्रीकल्चर प्रोड्यूस मार्केटिंग कमेटी यानी एपीएमसी को खारिज नहीं करेंगे.

4. इन बिल्स की मदद से दो राज्यों के बीच और एक ही राज्य में बिना किसी बाधा के फसलों की खरीद या बिक्री हो सकेगी. सरकार ने इस बिल को 'ऐतिहासिक कदम' करार दिया है और दावा किया है कि इससे रेगुलेटेड कृषि बाजार को फिर से खोलने में मदद मिल सकेगी.

5. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस बिल को लेकर सराहना की है. पीएम ने इन बिल्स को लेकर कहा है कि अब किसानों को बिचौलियों और व्यापारियों से बचने में म​दद मिलेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज