• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • आपका भी था इलाहाबाद बैंक में अकाउंट तो 1 अक्टूबर से पहले कर लें ये काम, वरना नहीं कर पाएंगे पैसों का लेनदेन

आपका भी था इलाहाबाद बैंक में अकाउंट तो 1 अक्टूबर से पहले कर लें ये काम, वरना नहीं कर पाएंगे पैसों का लेनदेन

इलाहाबाद बैंक ग्राहक ध्यान दें

इलाहाबाद बैंक ग्राहक ध्यान दें

अगर आपका भी अकाउंट इलाहाबाद बैंक में था तो आपके लिए बेहद जरूरी खबर है. 1 अक्टूबर 2021 से पहले आपको ये काम निपटाना होगा वरना आपकी पुरानी चेकबुक किसी काम की नहीं रहेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. अगर आपका भी अकाउंट इलाहाबाद बैंक में था तो समय रहते चेक बुक बदलवा लें वरना आपकी पुरानी चेकबुक किसी काम की नहीं रहेगी… बता दें कि बैंकों का विलय होने से अकाउंट होल्डर के अकाउंट नंबरों, आईएफएससी व एमआइसीआर कोड में बदलाव होने के कारण 1 अक्टूबर 2021 से बैंकिंग सिस्टम पुराने चेक को रिजेक्ट कर देगा. जिसके चलते पुरानी चेकबुक अमान्य हो जाएगी. इसलिए बैंक ग्राहकों को सलाह दी गई है कि वे तुरंत अपनी शाखा में जाएं और नए चेक बुक के लिए आवेदन करें.

    बैंक ने किया ये ट्वीट
    बैंक ने ट्वीट कर कहा, ‘आवश्यक सूचना! पूर्ववर्ती इलाहाबाद बैंक के ग्राहकों के पुराने चेक 1 अक्टूबर 2021 से भुगतान के लिए स्वीकार नहीं किए जाएँगे, आपसे अनुरोध है कि कृपया निर्बाध बैंकिंग के लिए इंडियन बैंक की नई चेकबुक प्राप्त करें.’

    ये भी पढ़ें: EPFO सब्सक्राइबर्स के लिए खुशखबरी! अब मिनटों में डिजिलॉकर से डाउनलोड करें UAN और PPO, जानिए प्रोसेस 

    इन बैंकों की चेक बुक होगी इनवैलिड
    1 अक्टूबर से इलाहाबाद बैंक (Allahabad Bank), ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC) और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (United Bank of India) की चेकबुक और MICR कोड इनवैलिड होने जा रहे हैं. ये बैंक हैं है.

    जानिए किस किस बैंक का हुआ विलय
    इलाहाबाद बैंक का विलय इंडियन बैंक (Indian Bank) में हो चुका है, जो 1 अप्रैल 2020 से प्रभाव में आया है. वहीं ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC) और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (United Bank of India) का विलय पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में हुआ था, जो 1 अप्रैल 2019 से प्रभावी हुआ है.

    बैंकों ने दी जानकारी
    इन तीनों बैंकों के MICR कोड और चेकबुक केवल 30 सितंबर 2021 तक ही मान्य हैं. 1 अक्टूबर 2021 से पुराने MICR कोड और चेकबुक इनवैलिड हो जाएंगे. बिना किसी रुकावट के बैंकिंग ट्रांजेक्शन जारी रखने के लिए ग्राहक 1 अक्टूबर 2021 से पहले ही नए चेक बुक ले लें.

    ये भी पढ़ें: खुशखबरी! बैंक ऑफ बड़ौदा बेच रहा सस्ते घर, जानिए किस दिन होगी नीलामी 

    नई चेक बुक के लिए करें ये काम
    ग्राहक नए चेकबुक निकटतम ब्रांच से ले सकते हैं. या फिर चाहें तो इंटरनेट बैंकिंग (Internet Banking/Online Banking) या मोबाइल बैंकिंग (Mobile Banking) से भी अप्लाई कर सकते हैं. पीएनबी ग्राहक एटीएम, इंटरनेट बैंकिंग या पीएनबी वन से अप्लाई कर सकते हैं.

    इन बैंकों के खाताधारकों को किसी भी ऑनलाइन बैंकिंग लेनदेन की सुविधा का इस्तेमाल करने के लिए विलय के बाद के बैंक नियमों के अनुसार अपने पुराने आईएफएससी कोड बदलने की जरूरत होगी. इसलिए अकाउंट होल्डर्स बताए गए बैंकों से या उनके लिए ऑनलाइन बैंक ट्रांसफर करना चाहते हैं, तो उन्हें संबंधित ऑनलाइन बैंकिंग वेब पोर्टल से पेयी की लिस्ट से बेनिफिशरी को हटाना होगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज