लाइव टीवी

दुनिया के सबसे अमीर आदमी ने किया भारत में 7,000 करोड़ रुपये के निवेश का ऐलान

वार्ता
Updated: January 15, 2020, 1:20 PM IST
दुनिया के सबसे अमीर आदमी ने किया भारत में 7,000 करोड़ रुपये के निवेश का ऐलान
दुनिया के सबसे अमीर और अमेजन के संस्थापक जेफ बेजोस

दुनिया की प्रमुख ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन (Amazon) ने भारत के लघु एवं मझोले उपक्रमों (एसएमबी) को डिजिटल बनाने पर एक अरब डॉलर (7,000 करोड़ रुपये) का निवेश करने की घोषणा की है.

  • Share this:
नई दिल्ली. दुनिया की प्रमुख ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन (Amazon) ने भारत के लघु एवं मझोले उपक्रमों (एसएमबी) को डिजिटल बनाने पर एक अरब डॉलर (7,000 करोड़ रुपये) का निवेश करने की घोषणा की है. दुनिया में सबसे अमीर और अमेजन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जेफ बेजोस (Jeff Bezos) ने बुधवार को यहां लघु एवं मझोले उपक्रमों पर आयोजित अमेजन संभव सम्मेलन को संबोधित करते हुए यह घोषणा की. बेजोस ने कहा कि कंपनी अपनी वैश्विक पहुंच के जरिये 2025 तक 10 अरब डॉलर के ‘मेक इन इंडिया’ उत्पादों का निर्यात करेगी. दो दिन के इस सम्मेलन में इस बात पर चर्चा की जाएगी कि कैसे लघु एवं मझोले उपक्रमों को प्रौद्योगिकी के प्रति जागरूक किया जा सकता है.

यह भी पढ़ें :- 2000 रुपये तक की शॉपिंग के लिए RBI का नया फैसला, ग्राहकों पर होगा सीधा फायदा

बेजोस ने यह भी कहा कि 21वीं सदी में भारत-अमेरिका गठजोड़ सबसे महत्वपूर्ण होगा. बेजोस इस सप्ताह भारत की यात्रा पर रहेंगे. वह शीर्ष सरकारी अधिकारियों, उद्योगपतियों और एसएमबी उद्यमियों के साथ मुलाकात करेंगे.

दुनिया में सबसे अमीर

अमेजन के संस्थापक जेफ बेजोस के पास 11600 करोड़ डॉलर (करीब 8.23 लाख करोड़ रुपये) की कुल संपत्ति है. पिछले साल माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स ने संपत्ति के मामले में जेफ बेजोस को पीछे छोड़ दिया था. हालांकि, अमेजन के शेयर में आई तेजी के चलते जेफ बेजोस फिर से दुनिया के सबसे अमीर शख्स बन गए हैं.



1994 में शुरू की थी कंपनी: जेफ बेजोस ने जुलाई 1994 में अपनी कंपनी की स्थापना की और 1995 में इसकी शुरुआत की. बेजोस पहले तो इसका नाम केडेब्रा डॉट कॉम रखना चाहते थे, लेकिन 3 महीने बाद उन्होंने इसका नाम बदलकर अमेजन डॉट कॉम कर दिया.ये भी पढ़ें:- खुशखबरी! Flipkart ने भारत में खोले 2 नए ऑफिस, 5000 लोगों को मिलेगी नौकरी

अमेजन नदी के नाम पर रखा कंपनी का नाम: उन्होंने दुनिया की सबसे बड़ी नदी अमेजन का नाम इसलिए चुना, क्योंकि वो दुनिया की सबसे बड़ी ऑनलाइन बुक सेलर कंपनी बनना चाहते थे. उनकी वेबसाइट ऑनलाइन बुकस्टोर के रूप में शुरू हुई, लेकिन बाद में डीवीडी, सॉफ्टवेयर, इलेक्ट्रॉनिक्स, कपड़े भी बेचने लगे.

ये भी पढ़ें:- 8.29 लाख करोड़ रु की संपत्ति वाले Jeff Bezos ने ऐसे शुरू हुई की थी Amazon

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सक्सेस स्टोरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 12:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर