कोरोना संकट के बीच आपके पास है मित्‍तल-जिंदल का पड़ाेसी बनने का मौका, कई वीआईपी प्रॉपर्टीज बिकने को तैयार

कोरोना संकट के बीच आपके पास है मित्‍तल-जिंदल का पड़ाेसी बनने का मौका, कई वीआईपी प्रॉपर्टीज बिकने को तैयार
दिल्‍ली के वीआईपी इलाके लुटियंस में एक दर्जन से ज्‍यादा प्रॉपर्टीज बिकने को तैयार हैं.

दिल्‍ली के लुटियंस जोन (Lutyens' Delhi) और आसपास के इलाकों में प्राइम प्रॉपर्टीज के प्लॉट साइज 375 से 1400 वर्ग गज (Square ) तक हैं. ब्रोकर्स के मुताबिक, इनकी कीमत 9 से 12 लाख रुपये प्रति वर्ग गज तक हो सकती है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस (Coronavirus in India) के चलते हर सेक्‍टर पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं. देश का रीयल एस्‍टेट सेक्‍टर (Real Estate Sector) भी इसससे अछूता नहीं है. इस बीच दिल्‍ली के वीआईपी इलाके लुटियंस में भी प्रॉपर्टी (VIP Property) के दाम गिर गए हैं. लुटियंस जोन (Lutyens' Delhi) और उसके आसपास के इलाकों में करीब दो दर्जन से ज्यादा प्राइम प्रॉपर्टी बिकने के लिए तैयार हैं. सामान्य तौर पर इस इलाके में वीआईपी प्रॉपर्टी ढूंढने से भी नहीं मिलती हैं.

75-160 करोड़ रुपये तक की प्रॉपर्टीज बिकने को तैयार
दिल्‍ली के इस वीआईपी इलाके में मित्तल, जिंदल, कपूर और नंदा जैसे बड़े कारोबारियों के बंगले हैं. इस समय दिल्ली के दिल कहे जाने वाले लुटियंस जोन और आसपास के इलाके जैसे गोल्फ लिंक्स, जोरबाग और हैली रोड पर शानदार बंगले बिकने को तैयार हैं. इन इलाकों में 75 करोड़ से 160 करोड़ रुपये कीमत वाली करीब एक दर्जन से ज्यादा प्रॉपर्टी बेची जानी हैं. इन सभी प्रॉपर्टीज को लग्जरी प्रॉपर्टी की खरीद-फरोख्‍त करने वाली वेबसाइट सादबी इंटरनेशनल रियल्टी के पोर्टल पर लिस्ट की गई हैं.

ये भी पढ़ें- कोरोना संकट के बीच इस भारतीय ई-कॉमर्स कंपनी ने जुटाया 1.2 अरब डॉलर का निवेश
12 लाख रुपये प्रति वर्ग गज तक हो सकते हैं दाम


इन प्राइम प्रॉपर्टीज के प्लॉट साइज 375 से 1400 वर्ग गज (Square ) तक हैं. ब्रोकर्स के मुताबिक, इनकी कीमत 9 से 12 लाख रुपये प्रति वर्ग गज तक हो सकती है. कीमत सुनने में बहुत ज्यादा लगती है, लेकिन कोरोना संकट के चलते कारोबार पर पड़े असर के कारण ही इनके मालिक ये प्रॉपर्टी बेचने के लिए मजबूर हैं. मौजूदा कारोबारी हालात को देखते हुए अनुमाना जताया जा रहा है कि आने वाले दिनों में बिकने वाली प्रॉपर्टी की ये लिस्ट और लंबी हो सकती है.

ये भी पढ़ें- 50 हजार रुपये के नीचे आया सोना, चांदी की कीमतों में भी दर्ज की गई गिरावट



पूंजीपतियों की माली हालत भी हो गई है नाजुक
कोविड संकट की वजह से देश भर में रीयल एस्टेट सेक्टर की हालत खस्ता है. हालांकि, लुटियंस दिल्ली की प्रॉपर्टीज की कीमतों में बहुत बड़ी गिरावट दर्ज नहीं की गई है. फिर भी ऐसे इलाकों की प्रॉपर्टीज बिकना मौजूदा आर्थिक हालात का संकेत जरूर करता है. लुटिंयस दिल्ली के इन इलाकों बड़े-बड़े पूंजीपतियों, उद्योगपतियों के बंगले हैं. मौजूदा संकट में पूंजीपतियों की माली हालत भी नाजुक हो गई है. ऐसे में इन करोड़ो-अरबों रुपयों के बंगले बेचकर वे अपनी बैलेंसशीट दुरुस्‍त रखना चाहते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading