होम /न्यूज /व्यवसाय /

आम्रपाली के हजारों लापता होमबायर्स के लिए आखिरी मौका, 15 दिन में करें दावेदारी नहीं तो फ्लैट अलॉमेंट हो जाएगा रद्द

आम्रपाली के हजारों लापता होमबायर्स के लिए आखिरी मौका, 15 दिन में करें दावेदारी नहीं तो फ्लैट अलॉमेंट हो जाएगा रद्द

आम्रपाली बिल्डर के लापता 6 हजार 570 फ्लैट खरीदारों की बेचैनी अब और बढ़ गई है.

आम्रपाली बिल्डर के लापता 6 हजार 570 फ्लैट खरीदारों की बेचैनी अब और बढ़ गई है.

आम्रपाली बिल्डर (Amrapali Builder) के लापता 6 हजार 570 फ्लैट खरीदारों (Flat Buyers) की बेचैनी अब और बढ़ गई है. सु्प्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त रिसीवर (Amrapali Court Receiver) ने आम्रपाली प्रोजेक्ट से जुड़े हजारों लापता फ्लैट मालिकों को अब अंतिम मौका दिया है. बुधवार को ही कोर्ट रिसीवर ने आम्रपाली के ग्रेटर नोएडा स्थित सभी प्रॉजेक्टों में 6570 लापता बायर्स की लिस्ट जारी कर दी है.

अधिक पढ़ें ...

    नोएडा. आम्रपाली बिल्डर (Amrapali Builder) के लापता 6 हजार 570 फ्लैट खरीदारों (Flat Buyers) की बेचैनी अब और बढ़ गई है. सु्प्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त रिसीवर (Amrapali Court Receiver) ने आम्रपाली प्रोजेक्ट से जुड़े हजारों लापता फ्लैट मालिकों को अब अंतिम मौका दिया है. बुधवार को ही कोर्ट रिसीवर ने आम्रपाली के ग्रेटर नोएडा स्थित सभी प्रॉजेक्टों में 6570 लापता बायर्स की लिस्ट जारी कर दी है. कोर्ट रिसीवर की तरफ से अखबारों में विज्ञापन दे कर यह कहा गया है कि अगर ये बायर्स 15 दिनों में फ्लैट पर दावेदारी नहीं करते हैं, तो इनका आवंटन रद्द माना जाएगा. उनके फ्लैट को अनसोल्ड इनवेंट्री में शामिल किया जा सकता है. बता दें कि ये ऐसे खरीदार हैं, जिन्होंने अभी तक कोर्ट रिसीवर द्वारा तैयार वेबसाइट पर कस्टमर डेटा में न तो अपनी डिटेल अपडेट की है और न ही अभी तक कोई बकाया राशि ही जमा किया है. कोर्ट रिसीवर ने यह जानकारी वेबसाइट के साथ-साथ देश के कई प्रमुख अखबारों में विज्ञापन में भी दिया है.

    अखबारों में दिए गए विज्ञापन में साफ-साफ लिखा है कि इस लिस्ट में शामिल सभी लोग अगर अगले 15 दिनों में अपने फ्लैट का क्लेम करने के लिए सामने नहीं आते हैं या किसी भी प्रकार से संपर्क नहीं करते हैं तो उनके फ्लैट का आवंटन एक तरह से निरस्त माना जाएगा.

    real estate sector increased by 27 percent to 1 79 billion samp

    कोर्ट रिसीवर ने यह जानकारी वेबसाइट के साथ-साथ देश के कई प्रमुख अखबारों में विज्ञापन में भी दिया है. (फाइल फोटो)

    आम्रपाली से होमबायर्स के लिए क्यों है जरूरी खबर
    कुछ दिन पहले ही इसी तरह अखबारों में विज्ञापन देकर 1800 बायर्स की लिस्ट सार्वजनिक की गई थी. इनमें से करीब 1400 बायर्स ने निर्धारित समय तक दावेदारी की थी. इससे प्रोजेक्ट को कई करोड़ का बकाया राशि बायर्स से मिला. बुधवार को भी एक लिस्ट जारी हुई है, उसमें ग्रेटर नोएडा के प्रॉजेक्टों के बायर्स हैं. कोर्ट रिसीवर ने कहा है कि यह दूसरे चरण की लिस्ट हुई है.

    बायर्स को 15 दिनों में करना होगा ये काम
    बुधवार को दिए विज्ञापन में कहा गया है कि अगर आपने फ्लैट की दावेदारी के लिए 15 दिनों में सामने नहीं आए तो आपको अपने फ्लैट से हाथ धोना पड़ सकता है. इसलिए, अगर इसके लिए इच्छुक हैं तो सबसे पहले कोर्ट रिसीवर की वेबसाइट पर जाकर कस्टमर डेटा को अपडेट करें. अगर आपने अपना कस्टमर डेटा अपडेट कर लिया है और उसके बाद भी लिस्ट में नाम है तो फिर अपने दस्तावेजों के साथ कोर्ट रिसीवर की टीम से संपर्क करें.

    Flat buyers, builders, dispute, noida, greater noida, UP Rera, House rent, फ्लैट खरीदार, बिल्डर, विवाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, यूपी रेरा, मकान किराया

    कई सालों से फ्लैट पाने की लड़ाई लड़ रहे हैं हजारों लोग. (फाइल फोटो)

    पहले भी अलर्ट किया गया था
    गौरतलब है कि इसी साल अगस्त महीने में आम्रपाली प्रोजेक्ट्स के 9,538 खरीदारों को कोर्ट रिसीवर की वेबसाइट और अखबारों में विज्ञापन देकर अपनी डिटेल भरने और पेमेंट शुरू करने के लिए 15 दिन का समय दिया था. तब 6,210 खरीदारों ने सबवेंशन स्कीम फैसिलिटी का लाभ उठाया.

    ये भी पढ़ें: Bihar Politics: RJD और कांग्रेस के रास्ते जुदा होने से अब ऐसे बदल जाएगी बिहार की सियासी बिसात?

    माना जा रहा है कि इससे कोर्ट रिसीवर को यूनिट्स की अदला-बदली लागू करने में मदद मिलेगी और अनबिकी इंवेट्री की बिक्री शुरू की जा सकेगी. इससे अनफिनिश्ड यूनिट्स को पूरा करने के लिए फंड मिल सकेगा. सुप्रीम कोर्ट ने इस बारे में पिछले साल जुलाई में ही ऑर्डर दिया था.

    Tags: Amrapali Group, Greater noida news, Home, Multi-storeyed flats, Supreme court of india

    अगली ख़बर