लाइव टीवी

Amul के नए प्लान की हुई घोषणा, खर्च होंगे 600 से 800 करोड़ रुपये

News18Hindi
Updated: May 27, 2019, 1:10 PM IST
Amul के नए प्लान की हुई घोषणा, खर्च होंगे 600 से 800 करोड़ रुपये
Amul के नए प्लान की हुई घोषणा, खर्च होंगे 600 से 800 करोड़ रुपये

गुजरात सहकारी दुग्ध विपणन महासंघ (जीसीएमएमएफ) मौजूदा वित्त वर्ष में अपनी विस्तार योजनाओं पर 600 से 800 करोड़ रुपये खर्च करेगी. आपको बता दें कि जीसीएमएमएफ AMUL ब्रांड नाम से अपने डेयरी उत्पाद बेचती है.

  • Share this:
देश के जानी माने डेयरी प्रोडक्ट ब्रैंड AMUL को लेकर नए प्लान की घोषणा हो चुकी है. गुजरात सहकारी दुग्ध विपणन महासंघ (जीसीएमएमएफ) मौजूदा वित्त वर्ष में अपनी विस्तार योजनाओं पर 600 से 800 करोड़ रुपये खर्च करेगी. इस योजना के तहत नए दूध प्रसंस्करण संयंत्र (मिल्क प्रोसेसिंग यूनिट) स्थापित करने और मौजूदा इकाइयों की क्षमता बढ़ाएगी जाएगी. कंपनी के प्रबंध निदेशक आर एस सोढ़ी ने सोमवार को यह जानकारी दी. आपको बता दें कि जीसीएमएमएफ अमूल ब्रांड नाम से अपने डेयरी उत्पाद बेचती है.

क्या है नया प्लान
>> बीते वित्त वर्ष 2018-19 में जीसीएमएमएफ का कारोबार 13 फीसदी बढ़कर 33,150 करोड़ रुपए पर पहुंच गया.

ये भी पढ़ें-मोदी सरकार का नया प्लान, GST रिफंड मिलेगा फटाफट)



>>सोढ़ी ने कहा कि कंपनी का कारोबार चालू वित्त वर्ष में 20 प्रतिशत बढ़कर 40,000 करोड़ रुपए पर पहुंचने की उम्मीद है.

आर एस सोढ़ी,  प्रबंध निदेशक, गुजरात सहकारी दुग्ध विपणन महासंघ (जीसीएमएमएफ)


>>सोढ़ी ने कहा कि हम इस वित्त वर्ष में क्षमता विस्तार पर 600 से 800 करोड़ रुपए का निवेश करेंगे.

>> कंपनी दिल्ली-एनसीआर के आसपास के क्षेत्रों में नए संयंत्र लगाना चाहती है.

>> कारोबार के बारे में सोढ़ी ने कहा कि बीते वित्त वर्ष में बिक्री बढ़ने की वजह से कंपनी की आमदनी बढ़ी और कीमतों में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई.

>> चालू वित्त वर्ष में हम मात्रा और मूल्य दोनों में कारोबार वृद्धि की उम्मीद कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें-मोदी सरकार की ये योजना है हिट, मिलता है भारी मुनाफा

अमूल दूध हुआ महंगा-अमूल ने हाल में दिल्ली-एनसीआर, महाराष्ट्र और अन्य राज्यों में दूध के दाम में दो रुपए प्रति लीटर की वृद्धि की है.

>> इससे पहले कंपनी ने मार्च, 2017 में दूध के दाम बढ़ाए थे.

>> अमूल फेडरेशन के 18 सदस्‍य यूनियनों ने गुजरात के 18,700 गांवों के 36 लाख से अधिक किसान सदस्‍यों के साथ प्रतिदिन औसतन 230 लाख लीटर दूध की खरीद की.

>>अमूल की सदस्‍य यूनियनों ने वर्तमान में 350 लाख लीटर प्रतिदिन की दूध प्रोसेसिंग क्षमता को अगले दो सालों में बढ़ाकर 380-400 लाख लीटर प्रतिदिन करने की योजना बनाई है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 27, 2019, 1:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर